BREAKING NEWS

गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾भारत और ब्राजील आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग बढ़ाने का किया फैसला◾370 के खात्मे के बाद कश्मीर में शान से फहरेगा तिरंगा : अमित शाह◾देशवासियों को बांटने, संविधान को कमजोर करने की हो रही साजिश : सोनिया◾PM मोदी और नेतन्याहू ने फोन पर वैश्विक और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की◾गांधी शांति यात्रा पहुंची आगरा ◾भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचा कोरोना वायरस, बॉर्डर पर होगी स्क्रीनिंग◾ दिल्ली चुनाव : 250 नेता, हर दिन 500 जनसभाएं, इस तरह माहौल बनाने में जुटी है भाजपा◾आर्थिक विकास के लिए संविधान के मुताबिक चलना होगा - कोविंद◾भूमि सुधार कानून में बदलाव होगा : येदियुरप्पा◾

चीन कंपनियों को भारत में आने की अनुमति नहीं : गोयल

नई दिल्ली :  चीन की ओर इशारा करते हुए आज बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि वह ऐसे देश की किसी भी कंपनी को भारत नहीं आने देंगे, जहां भारत की कंपनियों पर प्रतिबंध लगा हुआ है।

\"\"बिजली मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि भारत कोई पंचिंग बैग नहीं है जहाँ भारत में आकर आप निवेश कर कमाई कर सकते हैं और भारतीय कंपनियां उनके देश में जाकर नहीं कर सकती है । हम अदल-बदल करने में विश्वास करते हैं। यह हमारी ताकत का प्रदर्शन भी है।

बिजली मंत्री ने हालांकि किसी देश का नाम नहीं लिया पर उनका इशारा चीन की और ही था लेकिन उनका यह बयान मीडिया में इन खबरों के बाद आया है कि भारत जल्द ही चीन की बिजली कंपनियों को बिजली क्षेत्र की परियोजनाओं में आने से रोक लगाएगा।

\"\"

चीन ने भी सुरक्षा कारणों का हवाला देकर अपने यहाँ विदेशी निवेश पर प्रतिबंध लगाया हुआ है । भारत में इस कारोबार क्षेत्र में 100 % प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति है।

बिजली मंत्री ने सरल ईंधन वितरण एप के शुभारंभ किया और मीडिया से कहा कि किसी विशेष देश पर प्रतिबंध लगाने का हमारा इरादा नहीं है।  हमें किसी भी देश के साथ समस्या नहीं है। लेकिन मेरा कहना कि भारत को किसी देश के साथ परस्पर आदान प्रदान में काम करना चाहिए। सरल ईंधन वितरण एप का विकास इंडिया लि. ने बिजली क्षेत्र के उपभोक्ताओं के लिए 'इन हाउस' किया है ।

\"\"

गोयल ने कहा कि भारत से यदि पावर ग्रिड जैसी पारेषण कंपनी किसी अन्य देश में बोली नहीं लगा सकती, वह किसी अन्य देश में निवेश नहीं कर सकती है और किसी अन्य देश में पारेषण लाइन नहीं लगा सकती है और में उस देश की कंपनी को इंडिया में काम करने की अनुमति नहीं दूंगा।