BREAKING NEWS

Haryana News: सीएम खट्टर ने कहा- स्वतंत्रता संग्राम की गाथा पर जागरूकता फैलाने... के लिए कार्यक्रम आयोजित करें ◾ जयशंकर की पाकिस्तान-अमेरिकी संबंधों को लेकर की गयी टिप्पणी पर 'पाकिस्तान' ने दी प्रतिक्रिया ◾29-30 सितंबर को गुजरात जाएंगे पीएम मोदी, गृहराज्य को कई बड़ी सौगातों से नवाजेंगे ◾ उद्धव को सुप्रीम झटका, चुनाव आयोग की कार्रवाई रोकने की मांग करने वाली याचिका खारिज◾SC ने EWS 10 फीसदी कोटा आपत्ति याचिका पर फैसला सुरक्षित, एक सवाल को लेकर फंसा पेंच ◾दिल्ली हाई कोर्ट के फैसले के बाद LG ने ट्वीट किया- ‘सत्यमेव जयते’, AAP ने लगाए थे गंभीर आरोप ◾jharkhand News: झारखंड में खौफनाक मामला! डायन बताकर एक महिला की गई हत्या, आरोपी गिरफ्तार, जानें मामला ◾ राजस्थान में मचे सियासी तूफान के बीच पायलट की दिल्ली दरबार में दस्तक, मीडिया के सवालों से बचे◾गहलोत के शक्ति प्रदर्शन पर थरूर को फायदा ! अध्यक्ष पद की दौड़ में बंसल भी शामिल◾प्यारे दोस्त शिंजो को PM की अंतिम विदाई, Tweet कर बोले-लाखों लोगों के दिलों में जिंदा रहेंगे आप◾ विवादों में सेमखोर,फिल्म में संस्कृति को गलत चित्रण करने का आरोप ◾दिल्ली : बारिश के बाद अब डेंगू के मामलों में हुई बढ़ोतरी, पिछले 4 दिनों में आए 129 नए केस ◾पायलट के अलावा कोई और नहीं है CM का विकल्प, गहलोत के मंत्री की राय◾CM मान ने सदन और पंजाब के लोगों को किया गुमराह, मुद्दे पर नहीं हुई बात : कांग्रेस◾गहलोत पर एक्शन तय ! शक्ति प्रदर्शन कर हाईकमान को नीचे दिखाने की थी कोशिश◾ मशहूर बॉलीवुड अभिनेत्री आशा पारेख को किया जाएगा दादा साहेब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित ◾PFI लोकतंत्र का दुश्मन, राष्ट्रविरोधी गतिविधियों में शामिल: मुख्तार अब्बास नकवी◾‘भारत जोड़ो यात्रा’ से BJP पर वार! जयराम रमेश बोले- राहुल के नेतृत्व में शुरू व्यापक यात्रा, 14km का तय होगा सफर ◾बैकफुट पर गहलोत समर्थक विधायक? खाचरियावास बोले-मानेसर जाने वालों पर होनी चाहिए कार्रवाई◾जापान : PM मोदी ने शिंजो आबे को दी अंतिम विदाई, कई देशों के प्रतिनिधि हुए शामिल◾

Indian Wheat Export: अब गेहूं को मिस्र में नहीं मिली एंट्री.... खराब बताकर लौटा चुका है तुर्की!

भारतीय गेहूं के निर्यात (Indian Wheat Export) मामले ने एक नया मोड़ ले लिया है, दरअसल मिस्र (Egypt) के प्लांट क्वारंटीन चीफ अहमद अल अत्तर (Ahmed Al Attar) ने शनिवार को कहा कि मिस्र ने 55,000 टन भारतीय गेहूं ले जाने वाले जहाज के प्रवेश पर रोक लगा दी, बताते चलें कि मूल रूप से इस गेहूं को तुर्की जाना था। अहमद अल अत्तर ने कहा कि "हमने जहाज को मिस्र में प्रवेश करने से रोक दिया।" उन्होंने रॉयटर्स को बताया तुर्की के प्लांट क्वारंटीन अधिकारियों ने पहले ही जहाज के आगमन को रोक दिया था।

रूस-यूक्रेन युद्ध के चलते भारत को मिली मंजूरी 

आपूर्ति मंत्री एली मोसेल्ही ने मई में कहा था कि भारत के साथ सामान्य निविदा प्रणाली के बाहर 500,000 टन गेहूं सीधे खरीदने के लिए एक समझौते पर सहमति हुई थी लेकिन अभी तक हस्ताक्षर नहीं किए गए थे। अप्रैल में मिस्र के कृषि मंत्रालय ने घोषणा करते हुए कहा था कि उसने भारत को गेहूं की आपूर्ति के स्रोत के रूप में मंजूरी दे दी है क्योंकि उत्तरी अफ्रीकी देश यूक्रेन (Ukarine) पर रूस (Russia) के आक्रमण के कारण खरीद को रोकना चाहते हैं।

भारतीय प्रतिबंध मिस्र के साथ सरकारी समझौते पर नहीं होगा लागू 

भारत की सरकार ने पुष्टि करते हुए कहा कि वह अभी भी मिस्र को सीमा शुल्क निकासी और निर्यात की प्रतीक्षा कर रहे शिपमेंट की अनुमति देगी। मोसेल्ही ने पहले कहा था कि भारतीय प्रतिबंध मिस्र के साथ सरकारी समझौते पर लागू नहीं होगा। कृषि मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शनिवार को रॉयटर्स को बताया कि मिस्र ने फसल के मौसम के दौरान अब तक 35 लाख टन स्थानीय गेहूं की खरीद की है। उन्होंने कहा कि गेहूं खरीद सीजन अगस्त में समाप्त हो रहा है।

भारत ने तुर्की के अधिकारियों से मांगा विवरण

गुणवत्ता की चिंताओं पर तुर्की द्वारा भारतीय गेहूं की खेप को खारिज करने की खबरों के बीच, खाद्य सचिव सुधांशु पांडे ने गुरुवार को कहा था कि सरकार ने इस मामले पर तुर्की के अधिकारियों से विवरण मांगा है क्योंकि संबंधित निर्यातक आईटीसी लिमिटेड ने दावा किया कि 60,000 टन के शिपमेंट में सभी आवश्यक मंजूरी थी। 

पादप स्वच्छता संबंधी चिंताओं पर तुर्की द्वारा भारतीय गेहूं की खेप को खारिज करने के बारे में पूछे जाने पर पांडे ने संवाददाताओं से कहा, "हमने इस रिपोर्ट की जांच की। यह आईटीसी और गुणवत्ता की सभी आवश्यकताओं को पूरा करती थी।" उन्होंने कहा कि खेप में करीब 60,000 टन गेहूं था। एक प्रमुख गेहूं निर्यातक आईटीसी ने सरकार को सूचित किया कि उन्होंने गेहूं को जिनेवा स्थित एक कंपनी को बेच दिया था, जिसने आगे कमोडिटी को तुर्की की एक फर्म को बेच दिया। सभी वित्तीय लेनदेन हुआ था।

बांग्लादेश : कंटेनर डिपो में विस्फोट के बाद लगी भीषण आग, 16 की मौत, 450 घायल