BREAKING NEWS

जसप्रीत बुमराह की आंधी में उड़ा वेस्ट इंडीज, एंटीगा टेस्ट में 318 रन से जीता भारत◾राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री समेत अन्य नेताओं ने सिंधू को शानदार जीत पर बधाई दी ◾PM मोदी ने संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंतोनियो गुतारेस के साथ ‘सार्थक चर्चा’ की◾J&K : केंद्र सरकार ने राज्य के लिए की 85 विकास योजनाओं की शुरुआत◾फ्रांस में PM मोदी ने ब्रिटेन के प्रधानमंत्री जॉनसन से की मुलाकात◾विपक्ष, प्रेस को जम्मू कश्मीर में लोगों पर बल के बर्बर प्रयोग का अहसास हुआ : राहुल◾जेटली के निधन से भाजपा में ‘दिल्ली-4’ दौर हुआ समाप्त ◾जेटली राजनीतिक दिग्गज, देश के लिए अमूल्य संपत्ति थे : लोकसभा अध्यक्ष◾केरल के कांग्रेस नेताओं ने PM मोदी की प्रशंसा करने पर शशि थरूर की आलोचना की ◾PM मोदी G-7 शिखर सम्मेलन के लिए पहुंचे फ्रांस◾सचिवालय से हटाया गया जम्मू कश्मीर का झंडा ◾TOP 20 NEWS 25 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾पीवी सिंधु का सुनहरा कारनामा, बैडमिंटन वर्ल्ड चैम्पियनशिप जीतने वाली पहली भारतीय ख़िलाड़ी ◾अब संसद में नहीं गूंजेगी अरुण जेटली की आवाज, खलेगी कमी : राहुल गांधी◾दवाओं की कोई कमी नहीं, फोन पर पाबंदी से जिंदगियां बचीं : सत्यपाल मलिक◾निगमबोध घाट पर पूरे राजकीय सम्मान के साथ अरुण जेटली का अंतिम संस्कार किया गया◾मन की बात: PM मोदी ने दो अक्टूबर से प्लास्टिक कचरे के खिलाफ जन आंदोलन का किया आह्वान ◾लोकतांत्रिक अधिकारों को समाप्त करने से अधिक राजनीतिक और राष्ट्र-विरोधी कुछ नहीं : प्रियंका गांधी◾जी-7 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए PM मोदी फ्रांस रवाना◾सोनिया गांधी ने कहा- सीट बंटवारे को जल्द अंतिम रूप दें महाराष्ट्र के नेता◾

व्यापार

विकासशील देशों का हित हो रहा प्रभावित : भारत

नई दिल्ली : भारत ने सोमवार को कहा कि विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) की विवाद सुलझाने की प्रणाली के अपीलीय निकाय के ठप्प होने तथा डब्ल्यूटीओ में सुधार के लिए कुछ विकसित देशों के असंतुलन पैदा करने वाले एजेंडा से विकासशील देशों का हित प्रभावित हो सकता है। भारत ने डब्ल्यूटीओ के 22 सदस्य देशों के वरिष्ठ अधिकारियों की यहां हुई बैठक में यह मुद्दा उठाया। गौरतलब है कि अमेरिका ने इसके सदस्यों की नियुक्ति में अड़ंगा लगाया हुआ है। निकाय के कार्य करने के लिये कम से कम तीन सदस्य होने अनिवार्य हैं और 10 दिसंबर के बाद यह स्थिति भी नहीं रहेगी। इससे 10 दिसंबर के बाद निकाय की कार्यप्रणाली ठप्प हो जाएगी।

वाणिज्य सचिव अनूप वधावन ने उद्घाटन सत्र में कहा कि कुछ देशों द्वारा एकपक्षीय कदम उठाने तथा जवाबी कार्रवाइयों के कारण बहुपक्षीय व्यापार व्यवस्था के समक्ष अस्तित्व की चुनौतियां हैं। उन्होंने कहा कि व्यापार वार्ताओं के अटकने तथा डब्यूटीओ अपीलीय मंच के सदस्यासें की नियुक्तियों में गतिरोध से चुनौतियां खड़ी हो गयी हैं। एक आधिकारिक बयान में वधावन के हवाले से कहा गया कि अपीलीय निकाय का ठप्प हो जाना डब्ल्यूटीओ की विवाद सुलझाने की व्यवस्था तथा इसकी क्रियान्वयन प्रणाली के लिये गंभीर जोखिम है। उन्होंने कहा कि व्यापार में संरक्षणवादी उपायों के बढ़ने से वैश्विक आर्थिक वातावरण बिगड़ रहा है और यह स्थिति सबसे अल्प विकसित देशों समेत सभी विकासशील देशों के लिये ठीक नहीं है।

वधावन ने कहा कि डब्ल्यूटीओ के अपीलीय निकाय के सदस्यों की नियुक्ति के ऊपर गतिरोध से भारत जैसे विकासशील देश और सबसे कम विकसित देशों को अधिक नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रणाली को बचाए रखने के लिये रचनात्मक तरीके से आगे बढ़ने तथा समस्या का रचनात्मक समाधान लाने की तत्काल जरूरत है। वधावन ने कहा कि डब्ल्यूटीओ की स्थिति से इस संगठन में सुधार की बातचीत जोर पकड़ रही है लेकिन दुर्भाग्य से इसमें संतुलन का पूरा अभाव है।