BREAKING NEWS

दिल्ली : ITO में लगे BJP सांसद गौतम गंभीर के लापता होने के पोस्टर◾वसीम रिजवी बोले- बगदादी और ओवैसी में कोई अंतर नहीं◾अयोध्या पर AIMPLB की बैठक आज, इकबाल अंसारी करेंगे बहिष्कार◾झारखंड विधानसभा चुनाव: कांग्रेस ने रांची में भाजपा से मुकाबला करने के लिए झामुमो को किया आगे◾महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾सबरीमला मंदिर के कपाट खुले, पुलिस ने 10 महिलाओं को वापस भेजा◾राफेल पर CM अरविंद केजरीवाल का प्रकाश जावड़ेकर को जवाब, ट्वीट कर कही ये बात ◾दिल्ली: राफेल डील में SC से क्लीन चिट के बाद AAP कार्यालय के पास भाजपा का प्रदर्शन◾

व्यापार

आईटी उद्योग के प्रतिनिधियों ने की ठाकुर के साथ बैठक

नई दिल्ली : बजट से पहले प्रौद्योगिकी क्षेत्र तथा नास्कॉम, आईएएमएआई तथा एमएआईटी जैसे उद्योग संगठनों ने शनिवार को वित्त राज्यमंत्री अनुराग ठाकुर से मुलाकात की। इस बैठक में कर ढांचे जैसे विभिन्न मुद्दों पर चर्चा हुई। उद्योग के प्रतिनिधियों ने डिजिटल अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए अपने विचार साझा किया। बजट पूर्व इस बैठक में डेटा के मुद्दों पर भी चर्चा हुई।

मसलन किस तरह से बिग डेटा का इस्तेमाल आर्थिक, वित्तीय और जुलवायु संबंधी पूर्वानुमान लगाने में किया जा सकता है। एक आधिकारिक बयान के अनुसार लघु एवं मझोले उपक्रम क्षेत्र को प्रोत्साहन तथा सार्वजनिक कामकाज के संचालन में सुधार के लिए बड़े आंकड़ों के सेट का विश्लेषण करने पर भी विचार विमर्श हुआ। बैठक में डिजिटल ढांचे और सरकार की भूमिका, डिजिटल अर्थव्यवस्था का नियमन, विशेषरूप से निजता, उपभोक्ता संरक्षण और वित्तीय नियमन पर बातचीत हुई। 

बैठक में वित्त मंत्रालय, इलेक्ट्रॉनिक्स एवं आईटी मंत्रालय, दूरसंचार मंत्रालय, सीबीडीटी तथा अन्य विभागों के अधिकारी भी शामिल हुए। आईटी उद्योग के संगठन नास्कॉम ने सरकार से विशेष आर्थिक क्षेत्र (सेज) की इकाइयों को कर प्रोत्साहन 2020 से आगे भी जारी रखने की मांग की। नास्कॉम ने कहा कि इस तरह के कदम से उद्योग में निश्चिंतता आएगी और उसे दीर्घावधि की रणनीति के लिए निवेश करने में मदद मिलेगी।