BREAKING NEWS

स्मृति ईरानी एवं हेमा मालिनी पर टिप्पणी कों लेकर EC से कांग्रेस की शिकायत◾उप्र विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है भाजपा, हो सकता है भारत का विघटन : फारूक अब्दुल्ला◾एनसीबी के सामने पेश हुईं अभिनेत्री अनन्या पांडे, कल सुबह 11 बजे फिर होगा सवालों से सामना ◾सिद्धू का अमरिंदर सिंह पर पलटवार - कैप्टन ने ही तैयार किये है केन्द्र के तीन काले कृषि कानून◾हिमाचल के छितकुल में 13 ट्रैकरों की हुई मौत, अन्य छह लापता◾कांग्रेस का PM से सवाल- जश्न से जख्म नहीं भरेंगे, ये बताएं 70 दिनों में 106 करोड़ टीके कैसे लगेंगे ◾केरल - वरिष्ठ माकपा नेता पर बेटी ने ही लगाया बच्चा छीनने का आरोप, मामला दर्ज ◾‘विस्तारवादी’ पड़ोसी को सेना ने दिया मुंहतोड़ जवाब, संप्रभुता से कभी समझौता नहीं करेगा भारत : नित्यानंद राय ◾कोरोना वैक्सीन का आंकड़ा 100 करोड़ के पार होने पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री ने गीत और फिल्म जारी की◾केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशन धारकों को दीपावली का तोहफा, महंगाई भत्ते में 3 प्रतिशत वृद्धि को मिली मंजूरी◾SC की सख्ती के बाद गाजीपुर बॉर्डर से किसान हटाने लगे टैंट, कहा- हमने कभी बन्द नहीं किया था रास्ता ◾नेहरू के जन्मदिन पर महंगाई के खिलाफ अभियान शुरू करेगी कांग्रेस, कहा- भारी राजस्व कमा रही है सरकार ◾ देश में टीकाकरण का आंकड़ा 100 करोड़ के पार, WHO प्रमुख ने PM मोदी और स्वास्थ्यकर्मियों को दी बधाई ◾आर्यन केस : शाहरुख के घर मन्नत में जांच के बाद निकली NCB टीम, अब अनन्या पांडे से होगी पूछताछ ◾जम्मू-कश्मीर में जारी है आतंकवादी गतिविधियां, बारामूला में टला बड़ा हादसा, आईईडी किया गया निष्क्रिय ◾SC की किसानों को फटकार- विरोध करना आपका अधिकार, लेकिन सड़कों को अवरुद्ध नहीं किया जा सकता◾100 करोड़ टीकाकरण पर थरूर बोले- 'आइए सरकार को श्रेय दें', पहले की विफलताओं के प्रति केंद्र जवाबदेह◾देश के पास महामारी के खिलाफ 100 करोड़ खुराक का ‘सुरक्षात्मक कवच’, आज का दिन ऐतिहासिक : PM मोदी◾ड्रग्स केस : बॉम्बे HC में आर्यन खान की जमानत याचिका पर 26 अक्टूबर को होगी सुनवाई◾MP : भिंड में वायुसेना का विमान क्रेश होकर खेत में गिरा, पायलट सुरक्षित बच निकलने में रहा सफल ◾

मोदी सरकार की नई योजना, ‌जिससे बस में महिला यात्री रहेंगी और सुरक्षित

मोदी सरकार बस, टैक्‍सी में चलने वाले  यात्रियों खासकर  महिलाओं की  सुरक्षा को ध्‍यान में रखते हुए एक  नई योजना लेकर आई है। 1 जनवरी 2019 से देश में चलने वाले सभी नए सार्वजनिक परिवहन वाहनों में अब निगरानी और आपात (इमरजेसी) बटन जैसे सुरक्षा उपकरण लगाना अनिवार्य होगा। यह नियम एक जनवरी 2019 या उसके बाद पंजीकृत वाहनों के लिए होगा।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एक बयान में कहा, 'ऑटो रिक्शा और ई-रिक्शा को छोड़कर सभी नए सार्वजनिक परिवहन वाहनों में आपात बटन के साथ ‘वाहन की स्थिति की वास्तविक समय में जानकारी देने वाले निगरानी उपकरण’ (व्हीकल लोकेशन ट्रैकिंग-वीएलटी) लगाना अनिवार्य होगा। यह नियम एक जनवरी, 2019 या उसके बाद पंजीकृत होने वाले वाहनों के लिए होगा।'

अधिसूचना जारी कर वीएलटी और आपात बटन लगाने को अनिवार्य बनाया जाएगा। मंत्रालय ने कहा, 'वीएलटी उपकरण बनाने वाली कंपनियां निगरानी करने की सेवा प्रदान करने में मदद करेंगी। यह नियम यात्रियों की, विशेषकर महिलाओं की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लाया गया है।'

1 जनवरी के बाद रजिस्‍ट्रेशन में अनिवार्य होगी यह सेवा

पुराने वाहनों के बारे में मंत्रालय ने कहा कि जो वाहन 31 दिसंबर, 2018 तक पंजीकृत होंगे, उनके संबंध में संबंधित राज्य या केंद्र शासित प्रदेश की सरकारें तय करेंगी कि वह किस तिथि तक उनमें वीएलटी उपरकरण और आपातकाल बटन लगा सकते हैं।

इस संबंध में मंत्रालय ने राज्यों को परामर्श जारी किया है। सुरक्षा उपकरणों के विनिर्माताओं को उपकरणों की जांच करने वाली एजेंसी के पहले प्रमाणपत्र जारी करने के बाद हर साल उत्पादित किए जाने वाले उपकरणों का परीक्षण करना होगा।