BREAKING NEWS

आज का राशिफल (23 अप्रैल 2021)◾युवा विश्व चैंपियनशिप में भारत की सात महिला मुक्केबाजों को स्वर्ण ◾भारत में एक दिन में सर्वाधिक मामले, ऑक्सीजन आपूर्ति सुनिश्चित करने का केंद्र का राज्यों को निर्देश◾पडीक्कल के शतक और कोहली के अर्धशतक से रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर 10 विकेट से जीता ◾दिल्ली के अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए तीन प्रशासनिक अधिकारी नियुक्त ◾महाराष्ट्र में कोविड-19 के 67,013 नए मामले, और 568 लोगों की मौत◾PM मोदी कोविड प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों संग करेंगे संवाद, डिजिटल माध्यम से बंगाल के मतदाताओं को करंगे संबोधित◾फाइजर ने की भारत में गैर-मुनाफे वाली कीमत पर कोविड वैक्सीन आपूर्ति की पेशकश◾ऑक्सीजन की आपूर्ति पर कर रहा हूं बारीकी से निगरानी, अन्य राज्यों को कोटे के अनुसार आपूर्ति की जा रही : CM खट्टर◾उत्तर प्रदेश : कोरोना से पिछले 24 घंटे में 195 मरीजों ने तोड़ा दम, 34379 नए मामले की पुष्टि◾कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर हरियाणा में शाम छह बजे तक सभी दुकानें बंद करने का आदेश ◾लॉकडाउन में युवक ने जताई गर्लफ्रेंड से मिलने की इच्छा, मुंबई पुलिस की हाजिरजवाबी ने जीता दिल ◾केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ऑक्सीजन के निर्बाध उत्पादन, आपूर्ति के लिए आपदा प्रबंधन कानून लागू किया ◾PM मोदी ने कोविड-19 के कारण रद्द कीं बंगाल में होने वाली सभी चुनावी रैलियां, कोरोना के हालात पर करेंगे बैठक ◾केंद्र सरकार के पास पीएम केयर्स फंड में पर्याप्त धन, लेकिन मुफ्त टीका उपलब्ध नहीं करायेगी : ममता ◾अमित शाह का TMC पर प्रहार - ममता के वोट बैंक और अवैध प्रवासी बंगाल में हैं असली बाहरी◾देशभर में ऑक्सीजन की कमी को लेकर मचा हाहाकार, प्रधानमंत्री मोदी ने की उच्च स्तरीय बैठक◾सोशल मीडिया पर राहुल गांधी ने दिया सन्देश - हम वायरस को हराएंगे, फिर से गले मिलेंगे◾मनीष सिसोदिया बोले- राजधानी के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन हुई खत्म, केंद्र से की ये मांग ◾ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए सरोज सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल ने दिल्ली HC का खटखटाया दरवाजा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

MTNL, BSNL का होगा विलय!

नई दिल्ली : दूरसंचार विभाग नकदी संकट से जूझ रही सार्वजनिक क्षेत्र की दूरसंचार कंपनियों एमटीएनएल और बीएसएनएल के विलय पर काम कर रहा है। एक सूत्र ने मंगलवार को कहा कि विभाग इन कंपनियों को फिर खड़ा करने की कोशिश कर रहा है। मामले से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि इन कंपनियों को पटरी पर लाने के लिए जिन चीजों पर विचार किया जा रहा है उनमें विलय भी एक है। इस बारे में अंतिम फैसला केंद्रीय मंत्रिमंडल करेगा। 

यह कदम इस दृष्टि से महत्वपूर्ण है कि महानगर टेलीफोन निगम लि. (एमटीएनएल) और भारत संचार निगम लि. (बीएसएनएल) को लगातार घाटा हो रहा है और हाल के समय में उन्हें अपने कर्मचारियों के वेतन का भुगतान करने में भी दिक्कतें आयी हैं। सूत्र ने कहा, ‘‘कुल पुनरोद्धार योजना में विलय का विकल्प भी शामिल है। इसकी वजह यह है कि बीएसएनएल अपने दम पर अस्तित्व बनी नहीं रह पाएगी। इस पर अंतिम फैसला मंत्रिमंडल को करना है।’’ 

उसने कहा कि योजना यह है कि एमटीएनएल का बीएसएनएल में विलय कर दिया जाए। एमटीएनएल दिल्ली और मुंबई में टेलीफोनी सेवाएं देती है, जबकि शेष सर्किलों में बीएसएनएल सेवाएं देती है। दूरसंचार विभाग इन कंपनियों के ‘बचाव’ के लिए पुनरोद्धार पैकेज पर काम कर रहा है। इसमें स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (वीआरएस), संपत्ति का मौद्रिकरण और 4जी स्पेक्ट्रम का आवंटन जैसे विकल्प हैं। संसद में दी गई सूचना के अनुसार बीएसएनएल का घाटा 2018-19 में बढ़कर 14,202 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है। 

आलोच्य वित्त वर्ष में कंपनी का राजस्व 19,308 करोड़ रुपये रहा। बीएसएनएल के कर्मचारियों की संख्या 1,65,179 है। कंपनी की कुल आमदनी में से कर्मचारियों के वेतन भुगतान की लागत 75 प्रतिशत बैठती है।