BREAKING NEWS

अयोध्या विवाद पर आए फैसले पर दूसरे देशों से संवाद बहुत सफल रहा : विदेश मंत्रालय◾झारखंड विधानसभा चुनाव : दूसरे चरण में 20 विधानसभा सीटों पर 260 प्रत्याशी आजमाएंगे किस्मत◾उद्धव ठाकरे और आदित्य ने मुंबई में शरद पवार से की मुलाकात ◾सोनिया ने शिवसेना संग गठबंधन के लिए सीडब्ल्यूसी का सुरक्षित रास्ता चुना ◾श्रीलंका की नई सरकार के साथ करीब से मिलकर काम करने को तैयार : भारत◾महाराष्ट्र में गठबंधन सरकार के गठन के आसार बढे , शुक्रवार को हो सकती है इस बारे में घोषणा◾चुनावी बांड से चुनावी राजनीति में साफ धन आया : भाजपा ◾SPG सुरक्षा हटाए जाने पर बोलीं प्रियंका - यह राजनीति है ◾सेना ने मुख्यमंत्री पद के लिए नए नाम सुझाए, राकांपा ने उद्धव पर दिया जोर◾ED ने कश्मीर में आतंकवादियों से संबंधित छह संपत्तियां जब्त की ◾प्रदूषण पर राज्यसभा में भाजपा और आप में तकरार, केंद्र ने कहा ‘अच्छे’ दिन बढे◾केजरीवाल के दबाव में केंद्र ने अनधिकृत कॉलोनियों के निवासियों को दिया मालिकाना हक : आप◾मोदी की जीत आशाओं तथा अपेक्षाओं की जीत : रविशंकर प्रसाद ◾विकास के कार्य पूरे करने को झारखंड में भाजपा को दें पूर्ण बहुमत : शाह◾राज्यसभा में विपक्षी दलों ने ट्रांसजेन्डर विधेयक को प्रवर समिति में भेजने की मांग की◾शिवसेना सदस्य ने की बिरसा मुंडा, वीर सावरकर को भारत रत्न देने की मांग◾TOP 20 NEWS 21 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾महाराष्ट्र : कांग्रेस और NCP के बीच बातचीत पूरी, कल नई सरकार की रुपरेखा पर होगा अंतिम निर्णय◾महाराष्ट्र : कांग्रेस के साथ संयुक्त बैठक से पहले NCP नेताओं की बैठक ◾अमित शाह ने झारखंड में चुनावी रैली को किया संबोधित, राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना◾

व्यापार

एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने में कतर को दिलचस्पी नहीं

 air

नई दिल्ली : कतर एयरवेज की सरकारी एयरलाइन कंपनी एयर इंडिया में हिस्सेदारी खरीदने में कोई दिलचस्पी नहीं है क्योंकि सरकार की निवेशकों को आकर्षित करने के लिए सिंगापुर और लंदन में रोडशो करने की योजना है। कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) ने बृहस्पतिवार को यह बात कही। 

कतर एयरवेज के सीईओ अकबर अल बाकेर ने कहा कि वह इंडिगो में हिस्सेदारी खरीदने के इच्छुक हैं लेकिन यह सही समय नहीं है क्योंकि उनके प्रवर्तकों के बीच के मुद्दों को अभी तक सुलझाया नहीं जा सका है। इंडिगो ने बृहस्पतिवार को कतर एयरवेज के साथ कोड शेयर समझौता किया है। बाकेर ने कहा कि एअरइंडिया में हिस्सेदारी खरीदने में हमारी कोई दिलचस्पी नहीं है। 

हम इंडिगो में हिस्सेदारी खरीदने के इच्छुक हैं लेकिन यह सही समय नहीं है क्योंकि अभी भी प्रवर्तकों के बीच मुद्दों को हल नहीं किया जा सका है। इंडिगो भारत की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी है। घरेलू यात्री बाजार में उसकी हिस्सेदारी करीब 48 प्रतिशत है। इंडिगो के प्रवर्तकों-राहुल भाटिया और राकेश गंगवाल के बीच कंपनी संचालन में कथित गंभीर खामियों को लेकर विवाद चल रहा है।