BREAKING NEWS

गोवा चुनाव : कांग्रेस के उम्मीदवारों की नयी सूची में भाजपा, आप के पूर्व नेताओं के नाम शामिल ◾PM मोदी के साथ ‘परीक्षा पे चर्चा’ में भाग लेने की समय सीमा 27 जनवरी तक बढ़ाई गई ◾दिल्ली में घटे कोरोना टेस्ट के दाम, अब 500 की जगह इतने रुपये में करवा सकते हैं RT-PCR TEST ◾ इंडिया गेट पर बने अमर जवान ज्योति की मशाल अब हमेशा के लिए हो जाएगी बंद, जानिए क्या है पूरी खबर ◾IAS (कैडर) नियामवली में संशोधन पर केंद्र आगे नहीं बढ़े: ममता ने फिर प्रधानमंत्री से की अपील◾कल के मुकाबले कोरोना मामलों में आई कमी, 12306 केस के साथ 43 मौतों ने बढ़ाई चिंता◾बिहार में 6 फरवरी तक बढ़ाया गया नाइट कर्फ्यू , शैक्षणिक संस्थान रहेंगे बंद◾यूपी : मैनपुरी के करहल से चुनाव लड़ सकते हैं अखिलेश यादव, समाजवादी पार्टी का माना जाता है गढ़ ◾स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी, कोविड-19 की दूसरी लहर की तुलना में तीसरी में कम हुई मौतें ◾बेरोजगारी और महंगाई जैसे मुद्दों पर कांग्रेस ने किया केंद्र का घेराव, कहा- नौकरियां देने का वादा महज जुमला... ◾प्रधानमंत्री मोदी कल सोमनाथ में नए सर्किट हाउस का करेंगे उद्घाटन, PMO ने दी जानकारी ◾कोरोना को लेकर विशेषज्ञों का दावा - अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों में संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा◾जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, शोपियां से गिरफ्तार हुआ लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू◾महाराष्ट्र: ओमीक्रॉन मामलों और संक्रमण दर में आई कमी, सरकार ने 24 जनवरी से स्कूल खोलने का किया ऐलान ◾पंजाब: धुरी से चुनावी रण में हुंकार भरेंगे AAP के CM उम्मीदवार भगवंत मान, राघव चड्ढा ने किया ऐलान ◾पाकिस्तान में लाहौर के अनारकली इलाके में बम ब्लॉस्ट , 3 की मौत, 20 से ज्यादा घायल◾UP चुनाव: निर्भया मामले की वकील सीमा कुशवाहा हुईं BSP में शामिल, जानिए क्यों दे रही मायावती का साथ? ◾यूपी चुनावः जेवर से SP-RLD गठबंधन प्रत्याशी भड़ाना ने चुनाव लड़ने से इनकार किया◾SP से परिवारवाद के खात्मे के लिए अखिलेश ने व्यक्त किया BJP का आभार, साथ ही की बड़ी चुनावी घोषणाएं ◾Goa elections: उत्पल पर्रिकर को केजरीवाल ने AAP में शामिल होकर चुनाव लड़ने का दिया ऑफर ◾

NBFC और Mutual Fund के प्रतिनिधियों के साथ RBI गवर्नर ने तरलता की स्थिति पर की चर्चा

देशभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है। संक्रमण की रोकथाम के लिए देश में लॉकडाउन जारी है। इस बीच, सोमवार को भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और म्यूचुअल फंडों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक की। इस बैठक में उन्होंने तरलता की स्थिति तथा एमएसएमई क्षेत्र को ऋण देने को बढ़ावा देने के तरीकों की समीक्षा की। रिजर्व बैंक ने एक बयान में कहा कि वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से दो सत्रों में अलग-अलग आयोजित की गई क्षेत्रवार बैठकों में उप-गवर्नर और आरबीआई के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भी भाग लिया।

सरकार से लॉकडाउन की पाबंदियों में ढील मिलने के बाद एनबीएफसी ने सोमवार से परिचालन शुरू कर दिया है। बयान में कहा गया कि बैठक के दौरान जिन मुद्दों पर चर्चा की गई, उनमें एमएसएमई, व्यापारी तथा अर्ध-शहरी, ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के ग्राहकों के लिये बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थानों से तरलता की उपलब्धता और कार्यशील पूंजी की आपूर्ति के लिये लॉकडाउन के बाद की रणनीति शामिल है। आरबीआई द्वारा ऋण की किस्तों के पुनर्भुगतान पर तीन महीने की छूट के क्रियान्वयन और शिकायत निवारण तंत्र को मजबूत करने पर भी चर्चा की गई।

म्यूचुअल फंड उद्योग के साथ बैठक के संबंध में, रिजर्व बैंक द्वारा तरलता के प्रावधान के संबंध में किये गये उपायों के प्रभाव पर चर्चा की गई। फ्रैंकलिन टेम्पलटन एसेट मैनेजमेंट कंपनी की छह फंड बंद करने की घोषणा के कुछ दिनों बाद रिजर्व बैंक ने म्यूचुअल फंड उद्योग को इसके प्रभाव से बचाने के लिये 50,000 करोड़ रुपये की विशेष तरलता सुविधा की घोषणा की है। इसके अलावा, बॉन्ड बाजारों के कामकाज की समीक्षा और आगे की योजनाओं पर भी चर्चा की गई। आरबीआई ने बयान में कहा कि गवर्नर ने अंतिम छोर तक ऋण की सुविधा मुहैया कराने में सूक्ष्म वित्त संस्थानों (एमएफआई) सहित एनबीएफसी की महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार किया। बता दें, इससे पहले आरबीआई गवर्नर ने शनिवार को सार्वजनिक क्षेत्र और निजी क्षेत्र के बैंकों के प्रमुखों से मुलाकात की थी।