BREAKING NEWS

राष्ट्रपति ट्रम्प को आगरा के मेयर भेंट करेंगे 1 फुट लंबी चांदी की चाबी ◾ट्रंप को भेंट की जाएगी 90 वर्षीय दर्जी की सिली हुई खादी की कमीज◾‘नमस्ते ट्रंप’ कार्यक्रम में हिस्सा लेने से पहले साबरमती आश्रम जाएंगे राष्ट्रपति ट्रम्प ◾तंबाकू सेवन की उम्र बढ़ाने पर विचार कर रही है केंद्र सरकार ◾TOP 20 NEWS 23 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मौजपुर में CAA को लेकर दो गुटों में झड़प, जमकर हुई पत्थरबाजी, पुलिस ने दागे आंसू गैस के गोले◾दिल्ली : सरिता विहार और जसोला में शाहीन बाग प्रदर्शन के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग◾पहले शाहीन बाग, फिर जाफराबाद और अब चांद बाग में CAA के खिलाफ धरने पर बैठे प्रदर्शनकारी ◾ट्रम्प की भारत यात्रा पहले से मोदी ने किया ट्वीट, लिखा- अमेरिकी राष्ट्रपति का स्वागत करने के लिए उत्साहित है भारत◾सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसलों ने देश के कानूनी और संवैधानिक ढांचे को किया मजबूत : राष्ट्रपति कोविंद ◾Coronavirus के प्रकोप से चीन में मरने वालों की संख्या बढ़कर 2400 पार ◾शाहीन बाग प्रदर्शन को लेकर वार्ताकार ने SC में दायर किया हलफनामा, धरने को बताया शांतिपूर्ण◾मन की बात में बोले PM मोदी- देश की बेटियां नकारात्मक बंधनों को तोड़ बढ़ रही हैं आगे◾बिहार में बेरोजगारी हटाओ यात्रा के खिलाफ लगे पोस्टर, लिखा-हाइटैक बस तैयार, अतिपिछड़ा शिकार◾भारत दौरे से पहले दिखा राष्ट्रपति ट्रंप का बाहुबली अवतार, शेयर किया Video◾CAA के विरोध में दिल्ली के जाफराबाद में प्रदर्शन जारी, भारी संख्या में पुलिस बल तैनात ◾जाफराबाद में CAA के खिलाफ प्रदर्शन को लेकर कपिल मिश्रा का ट्वीट, लिखा-मोदी जी ने सही कहा था◾US में निवेश कर रहे भारतीय निवेशकों से मुलाकात करेंगे Trump◾कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पाक राष्ट्रपति आरिफ अल्वी से की मुलाकात◾J&K के तीन पूर्व मुख्यमंत्रियों की जल्द रिहाई के लिए प्रार्थना करता हूं : राजनाथ सिंह◾

रीयल एस्टेट कंपनियों की नजर छोटे शहरों पर

नयी दिल्ली : शॉपिंग मॉल में दुकानों के बढ़ते किराये, ई-वाणिज्य क्षेत्र से मिल रही कड़ी प्रतिस्पर्धा ने भवन निर्माण में लगी कंपनियों के सामने चुनौतियां खड़ी की हैं। संपत्ति सलाहकार कंपनी जेएलएल की एक रपट के अनुसार इस वजह से अब रीयल एस्टेट कंपनियां छोटे शहरों में अपना कारोबार विस्तार कर रही हैं। 

जेएलएल इंडिया के प्रबंध निदेशक (खुदरा सेवा) शुभ्रांशु पाणि ने कहा कि रीयल एस्टेट कंपनियां क्षेत्र के खराब प्रदर्शन, भारी संख्या में खाली पड़ी दुकानों, किराये में बढ़ोत्तरी और ई-वाणिज्य क्षेत्र की बढ़त से कीमतों की कड़ी प्रतिस्पर्धा एवं खाली पड़ी दुकानों का खराब रख-रखाव जैसी विविध चुनौतियों से जूझ रही हैं। 

उन्होंने कहा कि इन चुनौतियों से निपटने के लिए कंपनियां दूसरे और तीसरे दर्जे के शहरों का रुख कर रही हैं। खासकर के उन बाजारों में जहां रीयल एस्टेट ब्रांड अभी पहुंचे नहीं हैं। इन बाजारों में भवन इत्यादि की कीमत महानगरों के मुकाबले 30 से 40 प्रतिशत तक कम होती है। जेएलएल इंडिया की ‘अर्बनाइजेशन, एस्पिरेशन, इनोवेशन- द न्यू पैराडाइम ऑफ इंडिया रिटेल’ रपट को मंगलवार को जारी किया गया है। 

पाणि ने कहा कि रीयल एस्टेट डेवलपर्स दुकानों के आकार को उपयुक्त बनाने पर ध्यान दे रहे हैं। उनकी कोशिश है कि एक ही स्थान पर दुकानों (शॉपिंग मॉल) की सुविधा देने के साथ-साथ अब ग्राहकों के लिए ज्यादा जगहों पर बाजार (छोटे-छोटे बाजार) बनाने पर ध्यान दे रहे हैं।