BREAKING NEWS

भ्रष्टाचार को लेकर BJP ने लॉन्च की 'कांग्रेस फाइल्स'◾श्रीलंका सरकार ने अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के धन के उपयोग की निगरानी के लिए बनाई समिति ◾जींद में नकली करेंसी , हेरोइन के साथ चार गिरफ्तार ◾हिमाचल प्रदेश: भूस्खलन की चपेट में आने से एक की मौत, वाहनों की आवाजाही बाधित ◾ पश्चिम बंगाल, बिहार में सांप्रदायिक हिंसा पर कपिल सिब्बल ने उठाया सवाल, कहा- प्रधानमंत्री मोदी ‘‘चुप’’ क्यों हैं ◾क्रिकेटर सुरेश रैना के फूफा की हत्या करने वाले का यूपी पुलिस ने एनकाउंटर किया ◾केरल UDF राहुल गांधी के सपोर्ट में करेगी सत्याग्रह,अडाणी मुद्दे को दबाने का लगाया आरोप◾ BSP के खिलाफ दुष्प्रचार से होशियार रहे दलित समाज - मायावती◾BRS नेता ने PM Modi की डिग्रियों का उड़ाया मजाक◾कांग्रेस 4 अप्रैल की बैठक के बाद कर्नाटक के लिए उम्मीदवारों की दूसरी सूची जारी करेगी- सिद्धरमैया◾उद्धव ठाकरे के खिलाफ विवादित बयान देने वाले नारायण राणे को कोर्ट ने बरी किया◾महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ठाणे में 'सावरकर गौरव यात्रा' का किए नेतृत्व◾भारत के नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक ने कहा- 'जम्मू-कश्मीर ने 2021-22 में बजट का 20 प्रतिशत कम उपयोग किया'◾NSA अजित डोभाल ने उज्जैन में किए महाकाल के दर्शन, शिवलिंग पर किया जलाभिषेक ◾भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने आबकारी नीति ‘घोटाले’ को लेकर केजरीवाल पर बोला हमला ◾7 अप्रैल को गौहाटी उच्च न्यायालय के प्लैटिनम जयंती समारोह को राष्ट्रपति मुर्मू करेंगी संबोधित ◾महाराष्ट्र : शिंदे गुट और बीजेपी ने ठाणे में निकाली सावरकर गौरव यात्रा, भगवा लुक में नजर आए कार्यकर्ता◾शशि थरूर ने कहा- कांग्रेस वास्तविक ‘केंद्र बिंदु’, छोटे दलों को विपक्षी गठबंधन का संयोजक बनने को प्रेरित करता◾Bihar News: हिंसा पर केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने सरकार पर साधा निशाना, कहा- बंगाल के रास्ते पर जा रहा राज्य◾सोमवार को प्रधानमंत्री मोदी सीबीआई के हीरक जयंती समारोह का करेंगे उद्घाटन◾

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 14 पैसे नीचे पहुंचा

भारतीय मुद्रा रुपया आज सुबह अमेरिकी डॉलर के मुकाबले एक और रिकॉर्ड सवँकालिक निम्न स्तर को छू गया। रुपया 14 पैसे गिरकर 77.69 प्रति अमेरिकी डॉलर पर आ गया। अमेरिका में मौद्रिक नीति दरों के सख्त होने की उम्मीद से भी रुपये पर असर पड़ा है, क्योंकि विकसित बाजारों में किसी भी तरह की वृद्धि आमतौर पर उभरते बाजारों से फंड के आउटफ्लो के साथ होती है ताकि उच्च रिटर्न जमा किया जा सके।

वैश्विक केंद्रीय बैंकों द्वारा सामान्य नीति शुरू करने के बाद रुपये पर दबाव रहा है और पिछले हफ्ते आरबीआई ने भी प्रमुख ब्याज दरों में इजाफा करना शुरू कर दिया था। इसके अलावा, वैश्विक कच्चे तेल की कीमतों में तेजी भी रुपये में गिरावट का एक कारण है।