BREAKING NEWS

बलरामपुर में गैंगरेप की घटना को लेकर कांग्रेस ने UP सरकार पर साधा निशाना, किया यह दवा ◾रवि किशन को मिली Y प्लस श्रेणी की सुरक्षा, मुख्यमंत्री योगी का किया धन्यवाद ◾कब रुकेगी हैवानियत, हाथरस-बलरामपुर के बाद MP और राजस्थान में नाबालिगों से गैंगरेप◾हाथरस गैंगरेप की घटना SIT ने शुरू की जांच, पीड़ित परिवार से आज प्रियंका गांधी कर सकती है मुलाकात ◾World Corona : दुनियाभर में महामारी का हाहाकार, संक्रमितों का आंकड़ा 3 करोड़ 38 लाख के पार◾पीएम ने रामनाथ कोविंद को दी जन्मदिन की बधाई, राष्ट्रपति के लम्बे आयु के लिए की प्रार्थना◾हाथरस के बाद बलरामपुर में हुआ गैंगरेप, पुलिस ने कहा - नहीं तोड़े गए पैर और कमर, पीड़िता की हुई मौत ◾आज का राशिफल (01 अक्टूबर 2020)◾हाथरस दुष्कर्म मामले पर विजयवर्गीय बोले - ‘‘UP में कभी भी पलट सकती है कार’’ ◾KKR vs RR ( IPL 2020 ) : केकेआर की ‘युवा ब्रिगेड’ ने दिलाई रॉयल्स पर शाही जीत, राजस्थान को 37 रन से हराया◾पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा - दोनों देशों ने छठे दौर की वार्ता के नतीजों का सकारात्मक मूल्यांकन किया◾बंगाल BJP के वरिष्ठ नेता 1 अक्टूबर को करेंगे अमित शाह से मुलाकात◾सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में शामिल हुए PM मोदी◾बाबरी विध्वंस फैसले पर जमीयत का सवाल- जब मस्जिद तोड़ी गई तो फिर सब निर्दोष कैसे, क्या यह न्याय है?◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾बाबरी विध्वंस मामला : सीबीआई कानूनी विभाग से विमर्श के बाद करेगी फैसले को चुनौती देने का निर्णय ◾मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से नहीं हटेगी शाही ईदगाह, अदालत में खारिज हुई याचिका◾हाथरस बलात्कार कांड: CM योगी ने युवती के पिता से की बात , 25 लाख रुपए, घर और नौकरी का भी ऐलान◾आईपीएल-13 RR vs KKR : राजस्थान ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का किया फैसला ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सेबी ने आईटी सेवाओं के लिए 15 कंपनियों का नाम छांटा

नई दिल्ली: भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने दो अलग-अलग आईटी सेवाओं के लिए टाटा कम्युनिकेशंस, विप्रो और टेक महिंद्रा सहित 15 कंपनियों का नाम छांटा है। इनमें आईटी ढांचे में सुरक्षा खामियों की पहचान और वर्गीकरण तथा सुरक्षा जोखिमों से संरक्षण जैसी सेवाएं शामिल हैं। सेबी ने सितंबर में अलग-अलग नोटिस जारी कर इच्छुक पक्षों से रुचि पत्र (ईओआई) मांगा था।

ये सेवाएं समूचे सूचना प्रौद्योगिकी ढांचे में सुरक्षा खामियों की पहचान और वर्गीकरण की पहचान करना और इन जोखिमों से निपटने के उपाय सुझाना हैं। दूसरी सेवा नेटवर्क और सुरक्षा परिचालन केंद्र से संबंधित है। इससे नियामक को रैन्समवेयर और इसी तरह के अन्य जोखिमों की पहचान करने और उनसे बचाव करने में मदद मिलेगी।

सूचना प्रौद्योगिकी ढांचे में सुरक्षा खामियों की पहचान के लिए सेबी ने सात बोली लगाने वाली कंपनियों विप्रो, अर्नस्ट एंड यंग एलएलपी, प्राइसवाटर हाउस, सुमेरु साफ्टवेयर साल्यूशंस, डिजिटल एज स्ट्रैटिटीज, एएए टेक्नोलॉजीज, आडीटाइम इन्फॉर्मेशन सिस्टम्स (इंडिया) लि. का नाम छांटा है। नेटवर्क और सुरक्षा परिचालन केंद्र की स्थापना के लिए नियामक ने टाटा कम्युनिकेशंस, विप्रो, टेक महिंद्रा, आईबीएम इंडिया, सिफी टेक्नोलॉजीज, प्राइसवाटर हाउस, डाइमेंशन डेटा इंडिया प्राइवेट लि.का नाम छांटा गया है।

हमारी मुख्य खबरों के लिए यह क्लिक करें।