BREAKING NEWS

राजस्थान : कांग्रेस विधायक दल की दूसरी बैठक आज, सचिन पायलट को किया आमंत्रित ◾नेपाल के पीएम ओली का बेतुका बयान, कहा - भगवान राम नेपाली है और भारत की अयोध्या है नकली◾दिल्ली में कोरोना का कहर जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 1.13 लाख के पार, बीते 24 घंटे में 1,246 नए केस◾राजस्थान में जारी सियासी उठापटक पर भाजपा ने कहा- विधायकों की गिनती के लिए सड़क या होटल नहीं, विधानसभा उपयुक्त स्थान ◾महाराष्ट्र में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 2.60 लाख के पार, मरने वालों का आंकड़ा 10,482 पहुंचा◾पायलट को मनाने में लगे राहुल और प्रियंका, कई वरिष्ठ नेताओं ने भी किया संपर्क ◾एलएसी विवाद : कल होगी भारत-चीन के बीच लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की चौथी बैठक◾बौखलाए चीन ने निकाली खीज, अमेरिका के शीर्ष अधिकारियों - नेताओं पर वीजा प्रतिबंध लगाया ◾कांग्रेस विधायक दल की बैठक में गहलोत के समर्थन में प्रस्ताव पारित, हाईकमान के नेतृत्व में जताया विश्वास ◾बच गई राजस्थान की कांग्रेस सरकार, मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायकों के संग दिखाया शक्ति प्रदर्शन◾सीबीएसई बोर्ड की 12वीं कक्षा के परिणाम घोषित, 88.78% परीक्षार्थी रहे उत्तीर्ण ◾श्रीपद्मनाभ स्वामी मंदिर प्रबंधन पर शाही परिवार का अधिकार SC ने रखा बरकरार◾सियासी संकट के बीच CM गहलोत के करीबियों पर IT का शकंजा, राजस्थान से लेकर दिल्ली तक छापेमारी◾राहुल ने केंद्र पर साधा सवालिया निशाना, कहा- क्या भारत कोरोना जंग में अच्छी स्थिति में है?◾जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच मुठभेड़ जारी, एक आतंकवादी ढेर ◾देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 8 लाख 78 हजार के पार, साढ़े पांच लाख से अधिक लोगों ने महामारी से पाया निजात ◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों के आंकड़ों में बढ़ोतरी का सिलसिला जारी, मरीजों की संख्या 1 करोड़ 29 लाख के करीब ◾CM शिवराज ने किया मंत्रिमंडल में विभागों का बंटवारा, नरोत्तम मिश्रा बने MP के गृह मंत्री◾असम में बाढ़ और भूस्खलन में चार और लोगों की मौत, करीब 13 लाख लोग प्रभावित◾चीन से तनाव के बीच सेना के आधुनिकीकरण के तहत अमेरिका से 72,000 असॉल्ट राइफल खरीद रहा भारत◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बैंकों से गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों को कर्ज मिलने में आया सुधार : शक्तिकांत दास

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) को बैंकों से ऋण मिलने की स्थिति में सुधार हुआ है। उन्होंने भरोसा दिया कि केंद्रीय बैंक किसी भी बड़े एनबीएफसी को डूबने नहीं देगा। आवास वित्तपोषण क्षेत्र की कंपनी डीएचएफएल का नाम लिए बगैर दास ने कहा कि किसी गैर-बैंकिंग कंपनी का सबसे बेहतर आकलन नियामक कर सकता है। 

उन्होंने इस तरह की इकाई को राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) में ले जाने को ‘व्यावहारिक’ कदम बताया। उन्होंने कहा कि आरबीआई शीर्ष 50 एनबीएफसी पर नियमित तौर पर नजर रखता है। इससे ‘कमजोर’ एनबीएफसी की पहचान करने में मदद मिलती है। दास ने स्पष्ट किया, ‘‘केंद्रीय बैंक किसी बड़ी एनबीएफसी को डूबने नहीं देगा।’’ 

रेपो दर में नहीं हुआ कोई बदलाव, RBI ने GDP ग्रोथ अनुमान घटाकर किया 5 फीसदी

उन्होंने कहा कि एनबीएफसी को बैंकों से ऋण मिलने में बढ़त के लिए केंद्रीय बैंक कई कदम उठा रहा है और अब तक उठाए गए कदमों का इच्छित फल भी मिला है। हालांकि, उन्होंने इसका विस्तृत ब्यौरा नहीं दिया। यह बात गौर करने लायक है कि आईएलएफएस के डूबने के बाद से सितंबर 2018 से एनबीएफसी क्षेत्र दबाव में है।