BREAKING NEWS

गुजरात में स्थानीय निकाय चुनाव रविवार को, 3.04 करोड़ मतदाता मताधिकार का करेंगे इस्तेमाल◾कांग्रेस कमजोर हो रही है, मजबूत करने के लिए एक साथ आये : असंतुष्ट नेताओं ने कहा ◾राज्यसभा से रिटायर हुआ हूं, राजनीति से नहीं, जम्मू-कश्मीर राज्य के लिए लड़ाई जारी रखूंगा : आजाद ◾पश्चिम बंगाल ओपिनियन पोल : टीएमसी को 156, भाजपा को 100 सीटें मिलने का अनुमान◾भाजपा बंगाल में जीती तो अगली बार एक चरण में सुनिश्चित करेंगे विधानसभा चुनाव: दिलीप घोष◾भाजपा बंगाल में जीती तो अगली बार एक चरण में सुनिश्चित करेंगे विधानसभा चुनाव: दिलीप घोष◾निजी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन की 1 डोज की कीमत होगी 250 रुपये, सरकारी अस्पतालों में टीकाकरण मुफ्त ◾लंबे समय बाद कांग्रेस में एकजुट नजर आई, एक हेलीकॉप्टर में सवार हुए गहलोत- पायलट ◾PM इमरान खान ने सीजफायर समझौते का किया स्वागत, कहा- “अनुकूल वातावरण” बनाने की जिम्मेदारी भारत की◾आजाद की सभा में जुटे 'G23' के नेता, कपिल सिब्बल बोले- सच्चाई है कि कांग्रेस कमजोर हो रही है◾तमिलनाडु चुनाव : भाजपा-अन्नाद्रमुक में सीट बंटवारे पर बातचीत शुरू, CM पलानीस्वामी से किशन रेड्डी ने की मुलाकात ◾सीमा पर सीजफायर है पर जम्मू कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे के अभियान जारी रहेंगे : भारतीय सेना ◾चीन जानता है कि प्रधानमंत्री ‘डरे हुए हैं', जमीन वापस नहीं ले पाएंगे और समझौता करेंगे : राहुल गांधी ◾बंगाल चुनाव पर बोले प्रशांत किशोर, '2 मई को मेरा पिछला ट्वीट निकाल लेना'◾ गाजीपुर बॉर्डर : गर्मी बढ़ते ही बेहद कम हुई आंदोलनकारी किसानों की संख्या, भाकियू ने दिया ये बयान ◾रविदास जयंती के मौके पर प्रियंका गांधी पहुंची काशी, पैदल चल जन्मस्थान मंदिर में मत्था टेका◾बंगाल में बुआ VS बेटी की जंग, 'नवरत्नों' के सहारे BJP का ममता दीदी पर तंज◾गुजरात के अहमदाबाद, सूरत समेत चार प्रमुख शहरों में रात्रिकालीन कर्फ्यू 15 दिन के लिए बढ़ाया गया ◾बंगाल चुनाव : BJP के चुनावी रथों में तोड़फोड़, पार्टी ने TMC पर लगाया आरोप◾पीएसएलवी रॉकेट के सबसे लंबे अभियानों में से एक की उल्टी गिनती शुरू, एक साथ भेजे जायेंगे 19 उपग्रह ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भारत में मौजूदा आर्थिक संकट 2008 से भी बड़ा और व्यापक

मुंबई : प्रतिभूति तथा निवेश प्रबंधन से जुड़ी वैश्विक कंपनी गोल्डमैन सैश ने भारत की आर्थिक वृद्धि दर के अनुमान को घटाकर नीचे जाने के जोखिम के साथ 6 प्रतिशत कर दिया है। साथ ही कहा है कि मौजूदा आर्थिक संकट 2008 से बड़ा है। उसने कहा कि देश के समक्ष खपत में गिरावट एक बड़ी चुनौती है और इसका कारण गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) के संकट को नहीं ठहराया जा सकता क्योंकि आईएल एंड एफएस के भुगतान संकट से पहले ही खपत में गिरावट शुरू हो गयी थी। कई लोग खपत में नरमी का कारण एनबीएफसी संकट को बता रहे हैं। 

एनबीएफसी में संकट सितंबर 2018 में शुरू हुआ। उस समय आईएल एंड एफएस में पहले भुगतान संकट का मामला सामने आया था। उसके बाद इन संस्थानों से खपत के लिये वित्त पोषण थम गया। ब्रोकरेज कंपनी गोल्डमैन सैश की वाल स्ट्रीट में मुख्य अर्थशास्त्री प्राची मिश्रा के अनुसार उसके विश्लेषण से पता चलता है कि खपत में जनवरी 2018 से गिरावट जारी है। यह अगस्त 2018 में आईएल एंड एफएस द्वारा चूक से काफी पहले की बात है। उन्होंने कहा कि खपत में गिरावट कुल वृद्धि में कमी में एक तिहाई योगदान है। 

इसके साथ वैश्विक स्तर पर नरमी से वित्त पोषण में बाधा उत्पन्न हुई है। यहां एक कार्यक्रम में प्राची ने कहा, ‘‘नरमी की स्थिति है और वृद्धि के आंकड़े 2 प्रतिशत नीचे आये हैं।’’ हालांकि, उन्होंने कहा कि दूसरी छमाही में आर्थिक वृद्धि बढ़ने की उम्मीद है। इसका कारण आरबीआई की सस्ती मौद्रिक नीति है। 

केंद्रीय बैंक ने प्रमुख नीतिगत दर में रिकार्ड पांच बार कटौती की है। कुल मिलार रेपो दर में पांच बार में 1.35 प्रतिशत की कटौती की जा चुकी है। फरवरी से हो रही इस कटौती के बाद रेपो दर 5.15 प्रतिशत पर आ गयी है। इसके अलावा कंपनियों के कर में कटौती जैसे उपायों से भी धारणा मजबूत होगी और वृद्धि में तेजी आएगी।