BREAKING NEWS

हाथरस दुष्कर्म मामले पर विजयवर्गीय बोले - ‘‘UP में कभी भी पलट सकती है कार’’ ◾हाथरस गैंगरेप मामला : लड़की के साथ जो हैवानियत हुई, वो हमारे समाज पर कलंक - सोनिया◾KKR vs RR ( IPL 2020 ) : केकेआर की ‘युवा ब्रिगेड’ ने दिलाई रॉयल्स पर शाही जीत, राजस्थान को 37 रन से हराया◾पूर्वी लद्दाख में सीमा विवाद पर विदेश मंत्रालय ने कहा - दोनों देशों ने छठे दौर की वार्ता के नतीजों का सकारात्मक मूल्यांकन किया◾बंगाल BJP के वरिष्ठ नेता 1 अक्टूबर को करेंगे अमित शाह से मुलाकात◾सोमनाथ ट्रस्ट की बैठक में शामिल हुए PM मोदी◾बाबरी विध्वंस फैसले पर जमीयत का सवाल- जब मस्जिद तोड़ी गई तो फिर सब निर्दोष कैसे, क्या यह न्याय है?◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾अनलॉक 5 की गाइडलाइन्स : 15 अक्टूबर से सिनेमा हाल, स्विमिंग पूल और मनोरंजन पार्क खोलने की अनुमति ◾बाबरी विध्वंस मामला : सीबीआई कानूनी विभाग से विमर्श के बाद करेगी फैसले को चुनौती देने का निर्णय ◾मथुरा के श्रीकृष्ण जन्मस्थान परिसर से नहीं हटेगी शाही ईदगाह, अदालत में खारिज हुई याचिका◾हाथरस बलात्कार कांड: CM योगी ने युवती के पिता से की बात , 25 लाख रुपए, घर और नौकरी का भी ऐलान◾आईपीएल-13 RR vs KKR : राजस्थान ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का किया फैसला ◾हाथरस घटना : सीएम योगी पर बरसी प्रियंका गांधी, पूछा - कैसे मुख्यमंत्री हैं आप, इतनी अमानवीयता◾दिल्लीवासियों के लिए राहत : कोरोना के मद्देनजर पानी के बिल पर 25 से लेकर 100 फीसदी तक की छूट ◾हाथरस घटना को लेकर संजय राउत ने दागा सवाल - क्या न्याय सिर्फ अभिनेत्री के लिए मांगा जाता है ?◾भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में सीमा गतिरोध पर एक और दौर की वार्ता हुई ◾जेपी नड्डा ने बिहार विधानसभा चुनाव के लिए फडणवीस को किया चुनाव प्रभारी नियुक्त ◾बाबरी विध्वंस पर अदालत के फैसले को उच्च न्यायालय में चुनौती देगा मुस्लिम पक्ष : जफरयाब जिलानी ◾बाबरी विध्वंस पर विशेष अदालत का फैसला 'तर्कविहीन निर्णय', उच्च अदालत में अपील दायर होनी चाहिए : कांग्रेस ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

यूनिटेक के आंतरिक आडिटर ने इस्तीफा दिया

नई दिल्ली : संकटग्रस्त रीयल एस्टेट क्षेत्र की कंपनी यूनिटेक लिमिटेड ने मंगलवार को कहा कि उसके आंतरिक लेखा परीक्षक एसकेपी एण्ड कंपनी चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ने समय नहीं होने का हवाला देते हुये इस्तीफा दे दिया। बंबई शेयर बाजार को भेजी सूचना में कंपनी ने कहा है, ‘‘कंपनी के आंतरिक लेखा परीक्षक एस के पी एण्ड कंपनी चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ने 15 जुलाई से इस्तीफा दे दिया है। 

उन्होंने कहा है कि समय की कमी के कारण वह कंपनी के आंतरिक लेखा परीक्षक के तौर पर काम जारी रखने में असमर्थ हैं।’’ यूनिटेक के लेखा परीक्षक का यह इस्तीफा ऐसे समय आया है जब कंपनी ने पिछले वित्त वर्ष की चौथी तिमाही और 2018-19 पूरे साल के वित्तीय परिणामों को मंजूरी देने के लिये बुलाई गई निदेशक मंडल की बैठक को आगे के लिये टाल दिया। 

कंपनी के लेखा विभाग ने आग्रह किया है कि उसे कंपनी की आडिट समिति द्वारा मांगी गई विस्तृत जानकारी को उपलब्ध कराने के लिये कुछ और समय चाहिये। कंपनी की आडिट कमेटी की बैठक 25 जून 2019 को हुई थी जिसमें लेखा विभाग से यह जानकारी मांगी गई थी। सूचना में कहा गया है कि यही वजह रही कि कंपनी के चेयरमैन ने निदेशकों से विचार विमर्श के बाद निदेशक मंडल की बैठक को 19 जुलाई 2019 तक के लिये टाल दिया।