BREAKING NEWS

पंजाब: डिप्टी CM रंधावा का अमरिंदर पर हमला, बोले- कैप्टन अवसरवादी है, जनता को धोखा दिया◾क्रूज ड्रग्स मामला: आर्यन खान की जमानत याचिका बॉम्बे हाईकोर्ट में दाखिल, क्या अब मिलेगी बेल? ◾अमरिंदर को भाजपा का खुला समर्थन, दुष्यंत गौतम बोले- राष्ट्र को सर्वोपरि रखने वालों के साथ गठबंधन को तैयार ◾SP-SBSP ने मिलाया हाथ, क्या योगी शासन के अंत की हो रही शुरुआत, राजभर बोले- अबकी बार BJP साफ ◾यूपी: सफाई कर्मी की पुलिस कस्टडी में हुई मौत, परिवार से मिलने आगरा जा रहीं प्रियंका को पुलिस ने लिया हिरासत में◾अखिलेश के तंज पर PM मोदी का पलटवार, कहा- ‘समाजवाद’ से ‘परिवारवाद’ के रास्ते पर उतर आई है सपा ◾आर्यन खान को लगा झटका, जमानत याचिका हुई खारिज, अब क्या करेंगे शाहरुख खान ?◾अभिधम्म दिवस पर बोले PM मोदी- तिरंगे पर जो ‘धम्म चक्र’ है, वह देश को आगे ले जाने की शक्ति है◾राहुल गांधी ने सरकार पर लगाया आरोप, कहा- संविधान,महर्षि वाल्मीकि के विचार और दलितों पर हो रहे हैं हमले ◾100 करोड़ टीकाकरण के आंकड़े को छूने पर BJP करेगी पूरे देश में कार्यक्रम, नड्डा जाएंगे गाजियाबाद ◾लखीमपुर खीरी हिंसा मामले पर SC ने यूपी सरकार को लगाई फटकार, कहा- गवाहों के बयान में हो रही है देरी◾पाकिस्तान के कश्मीर प्रेम को मिला इस देश का समर्थन, बोला- हम खुलकर सपोर्ट करते है◾हरीश रावत ने पार्टी नेतृत्व से किया आग्रह, कहा- पंजाब प्रभारी की जिम्मेदारी से मुक्त किया जाए◾अमित शाह आज बारिश से प्रभावित उत्तराखंड का करेंगे दौरा, राहत और बचाव कार्यो की करेंगे समीक्षा◾एयरपोर्ट में एक ईंट तक नहीं लगाई और कैंची लाए भाजपाई, अखिलेश बोले- पायलट बनने से प्लेन नहीं होता आपका ◾PM मोदी CBI और CVC की संयुक्त बैठक में बोले- भ्रष्टाचार लोगों के अधिकारों को छीन लेता है, नए भारत को यह स्वीकार नहीं◾कश्मीर घाटी से प्रवासियों के भागने की खबरों के बीच बोले मनीष तिवारी- 1990 को फिर से न दोहराने दें◾बिहार : कांग्रेस और राजद में बढ़ती जा रही तल्खी, उपचुनाव के बाद दोनों पार्टियों की राह हो जाएगी अलग ◾फेसबुक में होने जा रहा बड़ा बदलाव, रिपोर्ट का दावा- नए नाम के साथ कंपनी होगी रीब्रांड, जल्द हो सकती है घोषणा ◾शोपियां में सुरक्षा बलों ने मुठभेड़ के दौरान 2 आतंकवादियों को किया ढेर, इलाके में घेराबंदी कर तलाश अभियान जारी ◾

प्रत्यक्ष कर संग्रह के संशोधित लक्ष्यों तक जरूर पहुंचेंगे

प्रत्यक्ष कर विभाग के एक शीर्ष अधिकारी ने चालू वित्त वर्ष में प्रत्यक्ष कर वसूली के संशोधित अनुमानों को प्राप्त किए जाने का भरोसा जताया है। उसका कहाना है कि बजट में चालू वित्त वर्ष के प्रत्यक्ष कर संग्रह के लक्ष्य को घटाकर 11.80 लाख करोड़ रुपये किए जाने का फैसला विभिन्न आर्थिक कारकों के व्यावहारिक आकलन के बाद किया गया है। 

गौरतलब है कि पिछले बजट में चालू वित्त वर्ष में प्रत्यक्ष कर संग्रह (व्यक्तिगत आयकर, कंपनी कर और अन्य) का लक्ष्य 13.35 लाख करोड़ रुपय रखा गया था जिसे संशोधित बजट अनुमान में कम कर 12 लाख करोड़ रुपये से नीचे ला दिया गया है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (सीबीडीटी) के चेयरमैन पी सी मोदी ने शनिवार को पेश 2020-21 के आम बजट के बाद बातचीत में कहा कि चालू वित्त वर्ष में प्रत्यक्ष कर वसूल संबंधी, ‘पहले के अनुमानों को नए बजट में संशोधित किया गया है। अब हमारा लक्ष्य 11.80 लाख करोड़ रुपये का है। मुझे पूरा विश्वास है कि हम इस लक्ष्य को हासिल करेंगे।

लक्ष्य को संशोधित किए जाने के बारे में पूछे जाने पर मोदी ने कहा कि यह एक उचित आकलन है, जो हासिल होने योग्य है। इसकी एक और वजह है कि हमारा काफी राजस्व चला गया है।

मोदी ने कहा कि बड़ी मात्रा में रिफंड और कंपनी कर में कटौती से राजस्व प्रभावित हुआ है। सीबीडीटी आयकर विभाग का नीति बनाने वाला निकाय है। मोदी ने बताया कि आयकर विभाग ने अब तक 7.40 लाख करोड़ रुपये का कर जुटाया है। ‘हमें पूरा भरोसा है कि यह लक्ष्य हासिल होने योग्य है। पूर्व के अनुभवों से पता चलता है कि जनवरी-मार्च की तिमाही में सबसे अधिक राजस्व आता है।’’ उन्होंने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि संशोधित लक्ष्य हासिल हो जाएगा।

 नयी व्यक्तिगत आयकर व्यवस्था तथा प्रस्तावित आयकर स्लैब के बारे में पूछे जाने पर मोदी ने कहा कि सरकार का मकसद कंपनियों की तरह व्यक्तिगत करदाताओं को भी निचली कर दरों का लाभ देना है। उन्होंने कहा कि सरकार की मूल नीति करों में रियायत और छूट चरणबद्ध तरीके से समाप्त करना है।

 मोदी ने कहा कि इसके लिए पहला प्रयास पिछले साल कंपनी या कॉरपोरेट कर की कटौती कर के किया गया है। इस बार व्यक्तिगत आयकर में यह व्यवस्था की गई है कि आप नए कर ढांचे का फायदा तभी ले सकते हैं जबकि छूट और रियायतों को छोड़ें। उन्होंने कहा कि यह विचार किया गया कि जब पैसा करदाता के हाथ में है तो वही बेहतर तरीके से यह तय कर सकता है कि उसने अपना पैसा कहां निवेश करना है।