नई दिल्ली : दिल्ली शहर के 163 सबसे अमीर लोगों की कुल सम्मिलित संपत्ति 6,78,400 करोड़ रुपये है। बार्कलेज हुरुन की भारतीय अमीरों की सूची में यह जानकारी है। इस सूची में एक हजार करोड़ रुपये या इससे अधिक की हैसियत वालों को जगह दी जाती है। इसमें देश भर के 831 लोग हैं। इनमें से 233 लोग मुंबई के हैं। दिल्ली के 163 और बेंगलूरू के 69 लोग इस बार इस सूची में हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुकेश अंबानी 371 0 अरब रुपये के साथ देश के सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए हैं।

दिल्ली के एचसीएल के शिव नाडार 37,400 करोड़ रुपये की निजी हैसियत के साथ राजधानी के सबसे अमीर व्यक्ति हैं। इनके बाद आयशर मोटर्स के विक्रम लाल 37,100 करोड़ रुपये के साथ दूसरे और रोशनी नाडार 31,400 करोड़ रुपये के साथ तीसरे स्थान पर हैं। भारती एयरटेल के सुनील मित्तल 22,500 करोड़ रुपये के साथ चौथे और डीएलएफ के राजीव सिंह 21 हजार करोड़ रुपये के साथ पांचवें स्थान पर हैं।

दुनिया के टॉप 10 सबसे अमीर अपराधी जिनके पास है खरबों डॉलर की काली कमाई

दिल्ली शीर्ष 10 अमीरों के शामिल अन्य लोगों में 20,900 करोड़ रुपये के साथ किरण नाडार छठे, 19,500 करोड़ रुपये के साथ आनंद बर्मन सातवें, 13,900 करोड़ रुपये के साथ राजन भारती मित्तल एवं परिवार आठवें, राकेश भारती एवं मित्तल परिवार 13,900 करोड़ रुपये के साथ नौवें तथा राहुल भाटिया 12,800 करोड़ रुपये के साथ 10वें स्थान पर हैं। दिल्ली के शीर्ष 10 अमीरों में महज दो महिलायें हैं जबकि शहर के कुल 163 अमीरों में महिलाओं की संख्या 29 है। देश में एक हजार करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति वाले अमीरों की संख्या 2017 के 214 से बढ़कर 2018 में 831 हो गयी है।