JIO का बड़ा धमाल, खोलने जा रहा है पेमेंट बैंक : रिपोर्ट


रिलायंस इंडस्ट्रीज़ की योजना इस साल के खत्म होने से पहले जियो पेमेंट्स बैंक शुरू करने की है। लाइवमिंट की रिपोर्ट के अनुसार, जियो पेमेंट्स बैंक रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की साझेदारी में बनेगा।

रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज़ के चेयरमैन मुकेश अंबानी जियो फोन की डिलिवरी शुरू होने के साथ जियो पेमेंट्स बैंक भी लॉन्च करना चाहते थे। जियो फोन जुलाई में लॉन्च किया गया था। लेकिन आरबीआई ने जियो पेमेंट्स से उसकी क्षमता के बारे में पूछा और यह भी साबित करने को कहा कि लॉन्च से पहले सभी दिशा-निर्देशों का पालन किया जाएगा। रिपोर्ट में कहा गया कि कि शायद इसी वजह से देरी हो रही है।

गौरतलब है कि जियो ऐसी पहली कंपनी नही है जो पेमेंट बैंक लाने की तैयारी मे है। इससे पहले देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी एयरटेल ने पेमेंट बैंक लॉन्च किया है। जियो के पेमेंट बैंक से स्टेट बैंक को भी फायदा होगा। क्योंकि अब रिलायंस जियो के कस्टमर्स गांव में भी है और कंपनी अपना नेटवर्क बढ़ा रही है। रिलायंस जियो फोन को भी कंपनी सबसे पहले रूरल एरिया में बिक्री करने का टार्गेट रखा है।

पेमेंट बैंक से क्या होगा फायदा

रिजर्व बैंक की गाइडलाइन के मुताबिक पमेंट बैंक किसी भी कस्टमर का सेविंग अकाउंट खोल सकते हैं। यूजर 1 लाख रुपये तक जमा कर सकते हैं। पेमेंट बैंक डेबिट कार्ड भी जारी कर सकते हैं। इसके अलावा यूटिलिटी बिल पमेंटेस् के लिए ऑफर्स भी आएंगे। इतना ही नहीं पेमेंट बैंक्स के पास कस्टमर को सिंपल फाइनांशियल प्रोडक्ट्स जैसे म्यूचुअल प्रोडक्ट्स और इंश्योरेंस देने का भी ऑप्शन होगा।

छोटे बिजनेस के लिए ये फायदेमंद होगा, क्योंकि इसके तहत पांच छह कर्मचारियों वाले बिजनेस के लिए पेमेंट बैंक में सैलरी अकाउंट भी खुलवाया जा सकता है। यानी अगर जियो ने पेमेंट बैंक लॉन्च किया तो फिर से कई नए ऑफर्स मिल सकते हैं। इसके अलावा जियो का डेबिट कार्ड भी आ सकता है जिससे ट्रांजैक्शन कर सकते हैं। कुल मिला कर पेमेंट बैंक से मोबाइल के जरिए बैंकिंग काफी आसान होगी और इसके लिए बैंकों के चक्कर लगाने से निजात भी मिलेगा। हालांकि इसकी अपने दायरे भी हैं जो इसे बैंकिंग से अलग बनाती हैं।