हैदराबाद : केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, देश के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी और माइक्रोसॉफ्ट के संस्थापक बिल गेट्स उन लोगों में शामिल हैं, जिनके पास एस्तोनिया की ई-रेजिडेंसी है। भारत में एस्तोनिया के राजदूत रिहो क्रुव ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।दरअसल, एस्तोनिया दुनिया की कुछ प्रमुख शख्सियतों को सम्मान के रूप में ई-रेजिडेंसी प्रदान करता है।

ई-रिसिडेंसी रखने वाला किसी भी देश का उद्यमी यूरोपीय संघ में ऑनलाइन तरीके से कंपनी चला सकता है। ई-रेजिडेंसी प्राप्त करने के बाद अंबानी के रिलायंस जिओ ने इस उत्तर पश्चिमी देश में एक अनुषंगी कंपनी की स्थापना की है। यह कंपनी वहां के डिजिटल और संचार क्षेत्र में काम करती है। क्रुव ने कहा कि बहुत प्रमुख लोग ई-रेजिडेंट हैं।

वर्तमान सूचना-प्रौद्योगिकी और कानून एवं न्याय मंत्री रविशंकर प्रसाद एस्तोनिया के ई-रेजिडेंट हैं। दिग्गज कारोबारी मुकेश अंबानी ई-रेजिडेंट हैं। उन्होंने बताया कि पोप फ्रांसिस और बिल गेट्स भी (ई-रेजिडेंट हैं।).. वैश्विक नेताओं को यह दर्जा दिया गया है।