सेंसेक्स ने छुआ ऐतिहासिक स्तर : 32 हजार के पार पहुंचा


मुंबई : मॉनसून की अच्छी प्रगति, कंपनियों के मजबूत तिमाही परिणाम की उम्मीद और महंगाई के आंकड़ों में नरमी के दम पर बीएसई का सेंसेक्स आज पहली बार 32 हजार के अंक को पार कर गया। चौतरफा लिवाली के दम पर सेंसक्स गत दिवस की तुलना में 91.41 अंक चढ़कर 31896.23 अंक पर खुला और पहले घंटे के कारोबार में ही 32 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर को पार कर गया। तकरीबन 240 अंक की बढ़त बनाता हुआ एक समय यह 32044.40 अंक को छूने में कामयाब रहा। सबसे ज्यादा तेजी रियल एस्टेट, एफएमसीजी और पूंजीगत वस्तुओं के समूह में रही। सेंसेक्स की 30 कंपनियों में आईटीसी में सबसे ज्यादा तेजी और ओएनजीसी में सबसे बड़ी गिरावट देखने को मिली। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 64.35 अंक की बढ़त 9880.45 अंक पहुंचा।

सब्जियों, दालों और दुग्ध उत्पादों जैसी खाद्य वस्तुओं के सस्ता होने के कारण खुदरा मुद्रास्फीति जून महीने में 1.54 प्रतिशत केऐतिहासिक निचले स्तर पर आ गई। इससे संभावनाएं बनीं कि भारतीय रिजर्व बैंक अगले महीने ब्याज दर में कटौती की सोच सकता है। जिस वक्त सेंसेक्स ने 32000 का स्तर पार किया, ठीक उसी पल निफ्टी 65 अंकों की तेजी के साथ 9881 के स्तर पर कारोबार करता देखा गया। केंद्रीय बैंक की मौद्रिक नीति समीक्षा बैठक अगले महीने 2 अगस्त को होनी है।

सेंसेक्स 11 जुलाई को दिन में कारोबार के समय 31,885.11 अंक के रिकॉर्ड उच्च स्तर को छू गया था। पिछले तीन सत्रों के कारोबार में इसमें 444.18 अंक की बढ़त देखी गई है।दिन पहले एनएसई में तकनीकी खराबी के चलते कारोबार ठप हो गया था और उस दिन यह दोपहर करीब साढ़े बारह बजे शुरू हुआ था। आज इसका 50 कंपनियों के शेयरों पर आधारित सूचकांक निफ्टी 62.40 अंक यानी 0.63% सुधरकर 9,878.50 अंक की नयी ऊंचाई पर पहुंच गया। इससे पहले दिन में कारोबार के दौरान यह 11 जुलाई को 9,830.05 अंक के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा था।