नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को कहा कि फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब और व्हाट्सएप ने लोगों के संपर्क के तरीके को बदल दिया है लेकिन सोशल मीडिया वेबसाइटों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके प्लेटफॉर्म का दुरुपयोग ना हो। उद्योग मंडल सीआईआई के सम्मेलन बिग पिक्चर समिट के दौरान प्रसाद ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियों का भारत पर बहुत अधिक ध्यान यहां के बाजार के आकार और मौजूद संभावनाओं को दिखाता है।

प्रसाद ने कहा, “फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन और व्हाट्सएप भारत में सेवा करने नहीं आए हैं । अपनी विशालता के साथ भारत एक मजबूत बाजार प्रस्तुत करता है। मैं हमेशा कहता हूं कि आइए और कारोबार कीजिए लेकिन ‘‘क्या करना है, क्या नहीं…आपको याद रखना होगा।” मंत्री ने कहा कि सोशल मीडिया कंपनियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उनके प्लेटफॉर्म का दुरूपयोग न हो।

देश को ईमानदार बनाने की कोशिश थी नोटबंदी : रविशंकर प्रसाद