आम आदमी पार्टी का आरोप बैंकों में जमा जनता का पैसा हड़पने की तैयारी में है मोदी सरकार


Aam Aadmi Party

आम आदमी पार्टी (आप) ने आज मोदी सरकार पर आरोप लगाया कि वह नोटबंदी और जीएसटी के बाद जनता को एक और बड़ झटका देने की तैयारी में है। आप के प्रवक्ता राघव चढ्ढा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि केद्र सरकार द्वारा पेश विथीय समाधान एवं जमा बीमा विधेयक, 2017 के लागू होने के बाद बैंकों में जमा जनता का पैसा बैंक द्वारा हड़पने का रास्ता खुल जायेगा। चड्ढा ने कहा देश को सांप्रदायिकता के नाम पर बांटकर छेड़ गई बहस की आड़ में मोदी सरकार ऐसा कानून लाने की तैयारी में है जो जनता के बैंक-खातों में जमा राशि को हड़पने का काम करेगा।

चढ्ढा ने कहा कि संसद में यह विधेयक पारित होने पर नयी व्यवस्था के तहत बैंक में सावधि जमा राशि का भुगतान तभी होगा जब भुगतान के वक्त बैंक की आर्थिक स्थिति दुरुस्त होगीढ प्रस्तावित विधेयक में वर्णित धारा 52 बैंक की आर्थिक हालत बेहतर नहीं होने पर बैंक को खाते में कुल जमाराशि को हड़पने का भी विकल्प मुहैया करा देगी। इस बीच आप ने भाजपा पर उथरी नगर निगम के बजट प्रस्ताव में कर वृद्धि के जरिये निगम के विथीय घाटे को पूरा करने के लिये जनता पर अतिरिक्त बोझ डालने का आरोप लगाया है। पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि भाजपा की अगुवाई वाले उथरी निगम में आज पेश बजट प्रस्ताव को आप ने जन-विरोधी कदम बताया है। दो निगमों का प्रस्तावित बजट यह स्पष्ट करता है कि भाजपा निगम में उन्हीं के द्वारा पैदा किए गए विथीय घावों को भरने के लिए दिल्ली के आम निवासियों पर टैक्स का बोझ डाल रही है।