घाटी में अलगाववादियों की एक दिन की हड़ताल के बाद जनजीवन सामान्य


Jammu Kashmir

जम्मू & कश्मीर में अलगाववादियों की ओर से की गई एक दिन की हड़ताल के बाद आज जनजीवन सामान्य रहा। राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में दुकानें और सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान खुले रहे। इसके अलावा यातायात भी सामान्य रहा। सिविल लाइंस और श्रीनगर के नए इलाकों में व्यस्त मार्गों पर लोगों को ट्रैफिक जाम की समस्या का भी सामना करना पड़। घाटी में सभी सरकारी कार्यालयों और बैंकों में भी कामकाज सामान्य रहा।

कश्मीर घाटी में सभी शैक्षणिक संस्थानों में भी कामकाज सामान्य रहा। शुक्रवार को सुरक्षा कारणों से स्थगित की गई रेल सेवाओं को भी बहाल कर दिया गया। सिविल लाइंस के प्रमुख व्यापार केन्द्रों के अलावा श्रीनगर के ऐतिहासिक लाल चौक, हरी सिंह हाई स्ट्रीट, गनीखान, रेजीडेंसी रोड, मौलाना आजाद रोड, माहराज बाजार, बटमालू, इकबाल पार्क, डलगेट, रीगल चौक और बादशाह चौक में भी सभी व्यापारिक गतिविधियां सामान्य रहीं।

इसी प्रकार उत्तर कश्मीर के बारामूला, सोपोर, बांदीपोरा और पाटन में भी जनजीवन सामान्य रहा। प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग, पुलवामा और शोपियां में भी जीवन पुन: पटरी पर लौट आया है। मध्य कश्मीर के बडगाम और गंदेरबल में भी जनजीवन सामान्य रहा। हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के दोनों धड़ के अलावा जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) ने शुक्रवार को हड़ताल का आह्वान किया था।