अम्बेडकर एवं ओबीसी छात्रावास के छात्रों को भी प्रत्येक माह 15 किलो अनाज मुहैयी करायेगी : रामविलास पासवान


पटना : बिहार में अम्बेडकर, ओबीसी एवं अल्पसंख्यक छात्रावास में पिछड़े जाति के छात्र-छात्राएं हैं उनके लिए पहली बार देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में उनके कैबिनेट के मंत्री रामविलास पासवान ने बिहार के बच्चों को तोहफा दिया। इस छात्रावास में रहने वाले सभी बच्चों को बीपीएल द्वारा चावल और गेहॅू दो से तीन रुपये प्रति किलो मिलेगा। प्रत्येक छात्र को महीना में 15 किलो अनाज मुहैया करायेगी।

ये बातें आज लोक जनशक्ति पार्टी कार्यालय में पार्टी के सुप्रीमो एवे केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान पत्रकरों के समक्ष कही। उन्होंने कहा कि पिछले दिन दलित सेना के राष्ट्रीय सम्मेलन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एसटी-एससी एवं पिछड़े छात्रावास को अनाज बीपीएल दर द्वारा मुहैया कराने की मांग की थी। आज उच्चस्तरीय बैठक कर घोषणा कर दिया गया। बिहार में 117 अम्बेडकर एवं ओबीसी छात्रावास को इसका लाभ मिलेगा।

उन्होंने कहा कि दलित सेना द्वारा प्रत्येक प्रखंड में 20 तारीख को एकता दिवस के रूप में मनायेगी। हम दलित भाई-भाई और हक की लड़ाई न्यायपालिका में आरक्षण को बहाल करो। श्री पासवान ने नीतीश कुमार को धन्यवाद देते हुए कहा कि उन्होंने महादलित की तरह पासवान समाज को भी हर पंचायत में सामूहिक भवन एवं तीन डिसमिल जमीन देंगे। अब सभी दलित समाज के लोग एसटी-एससी का लाभ उठायेंगे जिस तरह महादलितों उठा रहे हैं।

उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट में भी एससी-एसटी को अ ारक्षण का लाभ मिलना चाहिए। इसके लिए सरकार को इंडियन जुडूशियल सर्विस बनाना चाहिए। इसमें एससीएसटी एवं ओबीसी के छात्र आयेंगे उन्हें खुले रूप में प्रतियोतगिता में शामिल करके उसे मजबूत बनाना चाहिए। आज आजादी के 70 साल बाद देश में सुप्रीम कोर्ट एवं हाईकोर्ट में एक भी एससीएसटी एवं दलित समाज का जज नहीं है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस आज तक बाबा भीमराव अम्बेडकर को ठगने का काम किया इसके शिवा कुछ नहीं किया। बाबा साहब के निधन के बाद 42 साल तक लोकसभा में उनके फोटो को नहीं लगाया गया। इससे दुर्भग्य की बात क्या होगी? लेकिन जब से नरेन्द्र मोदी की सरकार आयी है तब से अम्बेडकर के नाम पर अनेकों योजनाएं चलाया और आगे भी चलायें जायेगे।

प्रधानमंत्री का सपना है कि दलित-आदिवासी के बिना हिन्दू अधूरा है इसलिए उनका अंतिम पायदान में रहने वाले दलित और आदिवासी को पहले पायदान में लाना चाहते है। प्रधानमंत्री ने आयुष्मान योजना शुरू की है जिसमें करोड़ों लोगों को लाभ मिलेगा। इसमें मेडिकल बीमा योजना है जो गरीब-गुरबा बिना इलाज के नहीं रहेंगे।

अम्बेडकर जयंती पर प्रधानमंत्री ने भीम-ऐप द्वारा कैश बैंक ऑफर भी पेश किया है। जो बाबा साहब का एक सापना था। अगर देश में बाबा साहब का सच्चा अनुयायी नरेन्द्र मोदी है बाबा साहब जहां-जहां शिक्षा ग्रहण किया पढ़े-लिखे वहां पर उन्होंने बड़े-बड़े आधारशिला रखा ताकि लोग बाबा साहब के सपने को देख सकें। लेकिन राजद केवल दलितों को ठगनना चाहती है इसके अलावा उसका कोई विचार नहीं है।

संवाददाता सम्मेलन में मंत्री पशुपति पारस, दलित सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह सांसद रामचन्द्र पासवान, जमुई सांसद चिराग पासवान, छात्र लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रिंस राज, पूर्व विधायक एवं पार्टी के वरिष्ठ नेता सुनील पांडे, युवा लोजपा के प्रदेश अध्यक्ष अरविन्द कुमार, दलित सेना के प्रदेश अध्यक्ष संजय पासवान, अरूण कुमार सिंह, उपेन्द्र यादव, अशरफ अंसारी, दिनेश पासवान, राजेन्द्र विश्वकर्मा, कुंदन पासवान इत्यादि उपस्थित थे।

देश और दुनिया का हाल जानने के लिए जुड़े रहे पंजाब केसरी के साथ