पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने शनिवार को भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर बंगाल का अपमान करने का आरोप लगाते हुए उनसे माफी मांगने को कहा अन्यथा कानूनी कार्रवाई करने की चेतावनी दी। तृणमूल के राष्ट्रीय प्रवक्ता डेरेक ओ ब्रायन ने संवाददाताओं को बताया कि शाह ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जितने भी आरोप लगाये हैं, सभी बेबुनियाद हैं।

अमित शाह का भाषण स्थानीय टीवी चैनलों पर नहीं दिखाने का आरोप भी पूरी तरह आधारहीन है। उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष को अगले 72 घंटों में माफी मांगनी होगी अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई शुरू की जाएगी। तृणमूल से राज्यसभा सांसद ने आरोप लगाया कि शाह ने बंगाल और इसकी संस्कृति का अपमान किया है। ब्रायन ने कहा कि बीजेपी नेता ने न केवल सभी सीमाओं को पार किया है, बल्कि राज्य के मूल्यों और संस्कृति के बारे में कुछ भी जाने बगैर बंगाल को अपमानित किया है।

तृणमूल ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिये मेयो रोड पर अमित शाह की बैठक को एक और ‘फ्लॉप शो’ कहा है। इससे पहले, शाह ने आरोप लगाया कि सुश्री बनर्जी ने आज की रैली को बाधित करने का प्रयास किया और सभी बांग्ला टीवी समाचार चैनलों में रैली का प्रसारण रोका। उन्होंने कहा, ‘ हम पश्चिम बंगाल के खिलाफ नहीं हैं, लेकिन हम निश्चित रूप से ममता बनर्जी के खिलाफ हैं। मैं तृणमूल के खिलाफ विरोध करने के लिए यहां आया हूं।’