आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में शहीद हुए सिपाही औरंगजेब के परिवार से आज मुलाकात की। उन्होंने परिवार वालों के साथ करीब आधे घंटे का समय बिताया औरंगजेब को पुलवामा से 14 जून को आतंकवादियों ने अगवा कर लिया था। उनका गोलियों से छलनी शव उसी शाम श्रीनगर से बरामद किया गया था।

रक्षा सूत्रों ने बताया कि जनरल रावत ने शहीद के परिवार से मुलाकात करके उसे श्रद्धांजलि दी। औरंगजेब के पिता मोहम्मद हनीफ खुद भी सेना में रह चुके हैं। सेना की 44 राष्ट्रीय राइफल्स के जवान औरंगजेब को बीते दिनों अगवा किया गया था, जिसके बाद आतंकियों ने उनकी हत्या कर दी थी। शहीद औरंगजेब के पिता ने 32 घंटों के भीतर अपने बेटे की मौत का बदला लेने और सेना से आतंकवादियों को खत्म करने की अपील की।

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।