अक्सर अपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहने वाले AIMIM के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने एक बार फिर से जहर उगला है। असदुद्दीन ओवैसी हमेशा अपने भड़काऊ भाषणों के लिए जाने जाते हैं। इसी क्रम में ओवैसी ने एक बार फिर से जनसभा के दौरान भड़काऊ भाषण दिया है। पुणे में एक सभा को संबोधित करते हुए ओवैसी ने महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को हिंदुस्तान का नंबर 1 आतंकवादी बताया है।

वहीं, ओवैसी ने आगे कहा कि अगर ऐसा कहने पर पुलिस या कोई राजनीतिक दल मुझे नोटिस भेजता है तो भेज दे। मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। ओवैसी ने यह भी कहा कि पिछले 70 सालों से हम लोगों को डराया जा रहा है, लेकिन अब हम डरने वाले नहीं हैं।

ओवैसी ने आगे कहा किसने मारा था महात्मा गांधी को जी को, इस पर नोटिस देंगे मेरे को आप, मैं पुलिस से पूछना चाह रहा हूं क्या आप मेरे को नोटिस देंगे, मैं गोडसे के खिलाफ बोलूंगा।

हिन्दुस्तान का सबसे बड़ा नंबर वन आतंकवादी नाथूराम गोडसे था, तुम नोटिस दोगे मुझे, दो नोटिस मुझे, नाथूराम गोडसे कौन था। ओवैसी के इस बयान पर जनसभा में मौजूद लोगों ने उनके समर्थन में नारे भी लगाये।

असदुद्दीन ओवैसी ने ये भी कहा कि पिछले 70 सालों से मुस्लिमों ने कभी भी देश को बेचने की कोशिश नहीं की. लेकिन फिर भी उनको लगातार दबाया गया और शोषण किया गया। ‘हमें पिछले 70 सालों से डराया जा रहा है। लेकिन अब हम डरने वाले नहीं हैं। ज्यादा से ज्यादा आप क्या कर सकते हैं, हमें जान से मार सकते है, तो मार दीजिए। लेकिन अगर हम जिंदा है तो यहीं जीएंगे और मरेंगे तो यहीं मरेंगे।

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।