गृहमंत्री राजनाथ सिंह 6 मई को असम के दौरे पर रहेंगे। इसके ठीक पहले तिनसुकिया और गुवाहाटी में उल्फा (एस) उग्रवादियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई है। शुक्रवार देर रात हुए हमले में बोर्डूम्सा पुलिस स्टेशन के पुलिस इंस्पेक्टर भास्कर कलिता शहीद हो गए, जबकि सुरक्षाबलों ने दो उग्रवादियों को मार गिराया है।

गुवाहाटी में असम पुलिस के एक शीर्ष अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि अरुणाचल प्रदेश से सटे अंतरराज्यीय सीमा के पास शुक्रवार की रात उल्फा (एस) के साथ मुठभेड़ में भास्कर कलिता शहीद हो गए। वहीं कई जवानों के घायल होने की भी खबर है।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (स्पेशल ब्रांच) पल्लव भट्टाचार्य ने ये जानकारी दी। उन्होंने बताया कि बोर्डूम्सा के पास एक घर में उल्फा (आई) के उग्रवादियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी। जिसके बाद भास्कर कलिता के नेतृत्त्व में असम पुलिस और सीआरपीएफ की कोबरा बटालियन ने इलाके में छानबीन की।

बोर्डूम्सा का इलाका तिनसुकिया से 80 किलोमीटर की दूरी पर है. यहां उग्रवादियों और पुलिस के बीच जमकर फायरिंग हुई। दो ग्रेनेड ब्लास्ट भी हुए हैं। इस मुठभेड़ में पुलिस इंस्पेक्टर भास्कर कलिता गोली लगने से शहीद हो गए. कई जवान भी घायल हुए हैं।

अधिकारी के मुताबिक, इस मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने 2 उल्फा अग्रवादियों को मार गिराया है, जबकि एक को गिरफ्तार किया गया है। सुरक्षाबलों ने बड़ी मात्रा में हथियार भी बरामद किए हैं। फिलहाल मुठभेड़ खत्म हो चुकी है. घायल जवानों को अस्पताल पहुंचाया गया है।

 

हमारी मुख्य खबरों के लिए यहां क्लिक करे।