US द्वारा आतंकी घोषित से बौखलाए सलाउद्दीन ने कहा कश्मीर में जारी रहेगा संघर्ष


पाकिस्तान की शरण में पल रहा आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन का प्रमुख सैयद सलाउद्दीन अमेरिका की ओर से लगाए गए प्रतिबंध से बुरी तरह बौखला गया है  हिज्बुल मुजाहिदीन का प्रमुख सैयद सलाउद्दीन ने कहा कि कश्मीर की आजादी के लिए हमारी जंग जारी रहेगी। और कहा कि हम आतंकवादी नहीं हैं। हमारा संघर्ष भारत से आजादी के लिए है और कश्मीर की आजादी के लिए यह संघर्ष हमारा जारी रहेगा। हाल ही में अमेरिका ने हिज्बुल मुजाहिदीन का प्रमुख सैयद सलाउद्दीन को वैश्विक आतंकी घोषित किया है।

आतंकवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिदीन का प्रमुख सैयद सलाउद्दीन ने कहा कि में अमरीका के फैसले से डरने वाला नहीं हूँ । वही खुद को आतंकी घोषित होने की निंदा करते हुए उसने ट्रंप प्रशासन फैसले को ‘मूर्खतापूर्ण’ बताते हुए कहा कि यह अमरीकी दौरे पर गए भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुश करने के लिए दिया गया तोहफा था।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के मुजफ्फराबाद में हिज्बुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाउद्दीन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में शनिवार को कहा, वे हमें आतंकी घोषित करने के लिए सबूत के तौर पर एक घटना का जिक्र भी नहीं कर सकते हैं। इस मूर्खतापूर्ण फैसले से हमारा विश्वास नहीं टूटने वाला है। हम कश्मीर के मसले पर जिहाद जारी रखेंगे।

सैयद सलाउद्दीन का ये भी कहना है कि अमेरिका कोई एक मिसाल नहीं पेश कर सकता है। जिससे यह साबित होता हो कि मैं और दूसरे कश्मीरी लड़ाकों ने आतंकवाद की किसी वारदात को अंजाम दिया है।

हिज्बुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाउद्दीन ने कहा कि कश्मीर की आजादी के लड़ाकों की यह आचार संहिता है कि अल्पसंख्यकों, बुजुर्गों और महिलाओं को नुकसान नहीं पहुंचाना है।अगर कभी दुश्मन (भारत) शांति समझौते की पेशकश करता है। तो हम इसे स्वीकार करते हैं।

हिज्बुल मुजाहिदीन के प्रमुख सैयद सलाउद्दीन ने यह भी दावा किया कि उसके संगठन की भारत के भीतर हमले की क्षमता है। अमेरिका ने हिज्बुल आतंकी सैयद सलाउद्दीन को अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया है। साथ ही अमेरिका ने कश्मीर में हुए हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी हमलों का भी जिक्र किया है।