मुंबई:  मुंबई की दूसरी लाइफ लाइन कही जाने वाली बेस्ट बस के कर्मचारी रविवार रात 12 बजे से अनिश्चित कालीन हड़ताल पर रहेंगे।रक्षाबंधन के दिन बस कर्मचारियों का हड़ताल पर जाना आम जनता के लिए किसी बड़ी मुसीबत से कम नहीं है। मुंबई में बेस्ट की लगभग तीन हजार बसें हैं।

Source

बस यूनियन ने कई मांगों कोलेकर हड़ताल पर जाने का फैसला लिया है. वेतन मिलने में हो रही देरी को लेकर बेस्ट कर्मचारियों ने हड़ताल पर जाने का एलान किया है। हालांकि बेस्ट कर्मचारियों के संगठन के नेताओं और महापौर, मनपा आयुक्त अजोय मेहता के बीच बैठक जारी है जिसमें कर्माचारियों को मनाने की कोशिश की जा रही है. इससे पहले महापौर ने कर्मचारियों को हर महीने की 10 तारीख को वेतन मिल जाने का आश्वासन दिया था, लेकिन कर्मचारी यह आश्वासन लिखित में दिए जाने की बात कर रहें हैं।

Source

देर रात तक बेस्ट के कर्मचारियों और बीएमसी के बीच समझौते की कोशिश होती रही, लेकिन यह बैठक बेनतीजा रही।

  • बेस्ट की हड़ताल 30 लाख लोग हर दिन सफ़र करते हैं
  • पूरे राज्य में बेस्ट के 35 हज़ार कर्मचारी
  • बेस्ट के पास क़रीब 3600 बसें
  • लोकल के बाद परिवहन का सबसे बड़ा ज़रिया
क्या है कर्मचारियों की मांग?
  • बेस्ट को बीएमसी पूरी तरह से टेकओवर करे
  • तीन महीने का बक़ाया वेतन मिले समय पर वेतन मिले
  • प्राइवेट बसों को किराए पर लेने पर रोक लगे

Source

वेतन को लेकर बेस्ट के कर्मचारी बीएमसी से लिखित आश्वासन चाहते थे, लेकिन ऐसा नहीं होने पर उन्होंने हड़ताल पर जाने का फैसला किया है। अमूमन बेस्ट की बसों में लगभग 30 लाख लोग रोजाना सवारी करते हैं। पूरे राज्य में बेस्ट के कुल 35 हजार कर्मचारी हैं और तकरीबन 3600 बसें हैं।