पटनाः लगता है कर्नाटक के ‌सियासी रंग का असर अब बा‌कि राज्यों में भी उठता ‌दिखाई दे रहा है। कर्नाटक में राज्यपाल के निर्णय के बाद अब बिहार के नेता विपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि संविधान सभी को एक जैसा अधिकार देता है। हम बिहार की सबसे बड़ी पार्टी हैं। लिहाजा हमें भी कर्नाटक की तरह ही सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा न्यौता दिया जाना चाहिए। हम राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा करेंगे।

तेजस्वी यादव शुक्रवार दोपहर को आरजेडी विधायक और महागठबंधन के विधायकों के साथ राज्यपाल से मिलने के लिए राजभवन पहुंचे। तेजस्वी यादव के नेतृत्व में सभी विधायक पैदल मार्च करते हुए राजभवन पहुंचे। बताया जाता है कि तेजस्वी यादव ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया है।

तेजस्वी यादव ने राज्यपाल को हाल में हो रहे कर्नाटक विधानसभा चुनाव का उदाहरण देते हुए उन्हें बिहार में भी आरजेडी को सबसे बड़ी पार्टी बताते हुए सरकार बनाने का दावा पेश कर किया है।

तेजस्वी यादव ने राज्यपाल से मुलाकात कर बाहर निकले और उन्होंने बताया कि मैंने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस, हम, माले पार्टी के सहयोग से सरकार बनाने का कागज पेश किया है. हमने कर्नाटक के तर्ज पर बिहार में आरजेडी को भी सरकार बनाने की बात राज्यपाल से कही है।

उन्होंने कहा कि राज्यपाल ने हमारी बात गंभीरता से सुनी है. अब राज्यपाल ने इस बात पर विचार करने का समय मांगा है. उन्होंने बताया कि राज्यपाल इस बात पर विचार कर रहे हैं और वे कुछ दिनों के बाद इस बात पर अपना फैसला देंगे।

बिहार में विधानसभा की स्थिति

आरजेडी- 80
जेडीयू- 70
बीजेपी- 53
कांग्रेस- 27
अन्य- 32

 

24X7 नई खबरों से अवगत रहने के लिए क्लिक करे।