जीएसटी लागू होना केन्द्र की उपलब्धि


पटना : राष्ट्रीय लोक समता पार्टी की राष्टीय महासचिव सह प्रवक्ता माधव आनंद ने केंद्र की एनडीए सरकार को जीएसटी लागू करने की ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए बधाई दी है। उन्होंने कहा कि इस कर के लागू होने से हर उपभोक्ता हर राज्य और समूचे देश को फायदा होगा। श्री आनंद ने कहा कि ये हर किसी के लिए खुशी की खबर है कि जिस बिल को पारित कराने के लिए चार दशक से कोशिशें चल रही थींए उसे आखिरकार एनडीए सरकार ने न सिर्फ सर्वसम्मति से पारित कराने बल्कि लागू कराने में भी सर्वसम्मति बनाई।

श्री आनंद ने पूरे देश को एक आर्थिक सूत्र में बांधने वाले इस बिल के लागू होने पर सभी राजनीतिक दलों के समर्थन की सराहना की और कहा कि ये एक आदर्श है। श्री आनंद ने कहा कि हमेशा की तरह इस बार भी कुछ तत्व जनहित और देशहित के इतने महत्वपूर्ण कदम को लेकर भ्रम का माहौल बनाने में जुटे हैं जो दुर्भाग्यपूर्ण है। अप्रत्यक्ष करों के रूप में अनेकानेक कर लगाए जा रहे थे करों के ऊपर भी कर आरोपित थे और फिर उपकर भी लगाए जा रहे थे। कई वस्तुओं पर तो 31.32 फीसदी तक कर लगे हुए थे।

इसके कारण अनावश्यक रूप से एक तो सामग्रियां महंगी हो गई थींए ऊपर से करों को लेकर पारदर्शिता नहीं थी। एक बेहद जटिल कर प्रणाली जीएसटी के लागू होने से खत्म हो गई है। श्री आनंद ने जनता को आश्वस्त करते हुए कहा कि एनडीए सरकार ने कर स्लैब निश्चित करते समय ये पूरा ख्याल रखा कि जनता पर बोझ नहीं बढ़े।

उन्होंने कहा कि खान-पीने और रोजमर्रा की ज्यादातर वस्तुओं और सेवाओं को शून्य से पांच फीसदी के स्लैब में रखा गया है। खेती से जुड़े सामान और उपकरण भी पहले से सस्ते हो गए हैं। अब किसी को कोई सामान खरीदने के लिए कम टैक्स के लिए दूर दूसरे शहरों में जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी, पूरे देश में एक ही दर पर मिल सकेगी, जिससे पूरा देश एक बाजार के रूप में विकसित होगा।