लालू के परिवार को एक और झटका, तेज प्रताप का पेट्रोल पंप लाइसेंस रद्द


आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के परिवार की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। पिछले कुछ दिनों में लालू यादव और उनके परिवार पर भ्रष्टाचार के तमाम आरोप लगे हैं। इस बीच लालू के बड़े बेटे और स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव को फिर से तगड़ा झटका लगा है। तेज प्रताप यादव का आवंटित पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द कर दिया गया है।

भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड ने साल 2011 में तेज प्रताप यादव को पटना के बाईपास इलाके में पेट्रोल पंप चलाने का लाइसेंस दिया था। तेज प्रताप यादव का पटना स्थित पेट्रोल पंप बंद कर दिया गया है। अदालत के आदेश के बाद पेट्रोल पंप को सीज करने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसी मामले को लेकर भाजपा नेता सुशील कुमार मोदी ने आरोप लगाया था कि तेज प्रताप यादव ने साल 2011 में पेट्रोल पंप का लाइसेंस धोखाधड़ी और फर्जी कागजात जमा करके हासिल किया था।

बता दें कि सुशील मोदी ने इस मामले में भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड में शिकायत दर्ज कराई थी और तेज प्रताप के आवंटित पेट्रोल पंप के लाइसेंस को रद्द करने की मांग की थी। जांच के बाद भारत पेट्रोलियम ने तेज प्रताप यादव को आवंटित पेट्रोल पंप के लाइसेंस को रद्द कर दिया था, मगर लालू के बेटे तेज प्रताप ने भारत पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप रद्द करने के आदेश पर निचली अदालत में याचिका डालकर से रोक लगवा दिया था।

हालांकि, गुरुवार को निचली अदालत ने भारत पेट्रोलियम द्वारा तेज प्रताप यादव के आवंटित पेट्रोल पंप के लाइसेंस को रद्द करने के फैसले से रोक हटा ली, जिसका सीधा मतलब यह हुआ कि लालू के बेटे तेज प्रताप यादव को आवंटित पेट्रोल पंप का लाइसेंस रद्द माना जाएगा।