बिहार को विशेष पैकेज का एक-एक पैसा मिलेगा


पटना : बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन(राजग) की सरकार बनने के दस दिन के बाद उप मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य के लिये जो एक लाख 65 हजार करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा वर्ष 2015 में विधानसभा चुनाव के पूर्व की थी, उसका एक-एक पैसा केन्द्र से प्रदेश को मिलेगा।

श्री मोदी ने भाजपा की ओर से आयोजित ‘संकल्प सम्मेलन’ को संबोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव के पूर्व बिहार के लिये एक लाख 65 हजार करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा की थी लेकिन चुनाव के बाद महागठबंधन की सरकार सत्ता में आ गयी।

हालांकि भाजपा ने उस समय भी स्पष्ट किया था कि बिहार में पार्टी के सत्ता में नहीं आने के बावजूद प्रदेश के लिये प्रधानमंत्री की ओर से घोषित विशेष पैकेज की राशि अवश्य मिलेगी। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि महागठबंधन सरकार में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के परिवार के भ्रष्टाचार में लिप्त होने के कारण सही तरीके से काम नहीं हो पाया।

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कुमार ने भ्रष्टाचार से कोई समझौता नहीं करने की अपनी नीति पर चलते हुए महागठबंधन से नाता तोड़कर राजग के साथ नयी सरकार का गठन किया ताकि राज्य का विकास तेजी से हो सके। श्री मोदी ने कहा कि अब जबकि श्री कुमार के नेतृत्व में नई राजग सरकार का गठन हुआ है और विकास के काम में तेजी लाने के लिये ठोस कदम उठाये जा रहे हैं, केन्द्र से बिहार को विशेष पैकेज की राशि का एक-एक पैसा भी मिलेगा।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री मोदी ने विशेष पैकेज की घोषणा में 53 हजार करोड़ रुपये सड़क निर्माण के क्षेत्र में बिहार को देने का वादा किया था। उन्होंने कहा कि बिहार अब तेजी से विकास के रास्ते पर आगे बढ़ेगा और विशेष पैकेज की राशि का सही तरीके से इस्तेमाल होगा। उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ लोग यह सवाल उठा रहे हैं कि श्री कुमार ने राजग के साथ सरकार बनाकर वर्ष 2015 के विधानसभा चुनाव में मिले जनादेश का अपमान किया है।

ऐसे लोगों को यह समझना चाहिए कि जनादेश लोगों की सेवा करने के लिये मिला था न कि भ्रष्टाचार में लिप्त श्री लालू प्रसाद यादव के परिवार को बचाने के लिये । उन्होंने अपने ही अंदाज में सवाल किया कि क्या जनादेश इसलिये मिला था कि मोहम्मद शहाबुद्दीन और राजबल्लभ यादव जैसे दुर्दांत अपराधियों को सरकार की ओर से संरक्षण दिया जा सके।

श्री मोदी ने कहा कि अगले छह-सात महीने में बिहार के हर गांव में बिजली पहुंचा दी जाएगी और अगले एक वर्ष में ऐसा कोई घर नहीं होगा जहां बिजली नहीं होगी। इसी तरह कृषि क्षेत्र के लिये अलग से फीडर बनाये जा रहे हैं ताकि अगले तीन वर्षों में हर खेत तक बिजली पहुंचायी जा सके। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 तक बिहार के हर घरों में शौचालय बनवा दिया जाएगा ताकि यह राज्य खुले में शौच से मुक्त हो सके।