भाजपा ने लगाया अघोषित आपातकाल


पटना, (वार्ता): राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) पर कांग्रेस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी की हत्या की साजिश रचने का आरोप लगाते हुए कहा कि वह और उनका परिवार भी उनके निशाने पर है।  श्री यादव ने राजद विधायक दल के नेता एवं पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव और पूर्व मंत्री तेज प्रताप यादव को जनादेश अपमान यात्रा पर रवाना करने के बाद पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा के सत्ता में आने के बाद से देश में अघोषित रुप से इमरजेंसी लगा दी गयी है।

उन्होंने आशंका जाहिर करते हुए कहा कि कांग्रेस उपाध्यक्ष श्री गांधी के साथ ही उनके और उनके परिवार को भी टारगेट किया गया है। राजद अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा और आरएसएस ने अपने सभी विरोधियों को निशाना बनाकर रखा है और एक एक कर सबको अपने रास्ते से हटाना चाहता है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उन्होंने पलटू राम और आस्तीन का सांप करार देते हुए कहा कि महागठबंधन की सरकार में भाजपा की दाल नहीं गल रही थी।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने स्पष्ट रूप से कहा था कि उन्होंने बिहार में महागठबंधन की सरकार को नहीं तोड़ा है बल्कि श्री कुमार ने स्वयं ही भाजपा से हाथ मिलाया है। श्री यादव ने आरोप लगाया कि श्री कुमार भाजपा के साथ मिलकर उनके और उनके पुत्र के खिलाफ साजिश रच रहे हैं। श्री कुमार ने महागठबंधन को तोड़कर स्वयं ही राजनीतिक तौर पर आत्महत्या कर ली है । महागठबंधन से अलग होकर श्री कुमार ने स्वयं को समाप्त कर लिया है।

राजद अध्यक्ष ने कहा कि नयी सरकार में भाजपा के जितने भी मंत्री बने हैं वे सेवा नहीं बल्कि मेवा खाने आये हैं। मुख्यमंत्री श्री कुमार को एक बड़ा अवसरवादी करार दते हुए उन्होंने कहा कि उनपर अब कोई भी राजनीतिक दल भरोसा नहीं कर सकता। वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा के चुनाव में भाजपा श्री कुमार की पार्टी जनता दल यूनाइटेड (जदयू) को मात्र दो सीट ही देगी।

श्री यादव ने एक सवाल के जवाब में कहा कि उप मुख्यमंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी जिस सुभाष प्रसाद यादव के संबंध में पार्टी की होने वाली रैली के लिए पैसा देने का आरोप लगा रहे हैं वह पूरी तरह से निराधार है। बालू के कारोबारी सुभाष यादव को पिछली सरकार में श्री मोदी के उप मुख्यमंत्री रहते बालू का ठेका दिया गया जो उन्होंने ही दिया था।