बिहार की बेटी का अपमान लालू मांगें माफी : नंदकिशोर


पटना : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता नंदकिशोर यादव ने विपक्षी दलों पर बिहार की बेटी मीरा कुमार का अपमान करने का आरोप लगाते हुये आज कहा कि यह जानते हुये कि राष्ट्रपति चुनाव में संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) के पास पर्याप्त मत नहीं है फिर भी श्रीमती कुमार को अपना उम्मीदवार बनाया जिससे उन्हें पराजय का मुंह देखना पड़ा।

श्री यादव ने राष्ट्रपति पद के चुनाव की आज हुई मतगणना में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) उम्मीदवार एवं बिहार के पूर्व राज्यपाल रामनाथ कोविंद को देश का राष्ट्रपति निर्वाचित होने पर बधाई दी। उन्होंने विपक्ष पर निशाना साधते हुये कहा कि यह जानते हुए कि संप्रग के पास केवल 34 प्रतिशत ही मत है फिर भी लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष मीरा कुमार को प्रत्याशी बना दिया जिससे उन्हें पराजय का मुंह देखना पड़ा। भाजपा नेता ने कहा कि श्रीमती कुमार को हारने के लिए राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाकर संप्रग ने बिहार की बेटी का अपमान किया है।

उन्होंने कहा कि इसके लिए संप्रग के घटक राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को बिहारवासियों से क्षमा मांगनी चाहिए क्योंकि वह हार के संभावित नतीजे को जानते हुये भी श्रीमती कुमार के पक्ष में खड़े थे। इससे पूर्व श्री कोविंद को राजग की ओर से राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाये जाने पर उन्हें जनता दल यूनाईटेड (जदयू) की ओर से समर्थन देने की घोषणा के बाद बिहार में सत्तारूढ़ महागठबंधन में मचे घमासान के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी श्रीमती कुमार की उम्मीदवारी को विपक्ष की बड़ी भूल करार दिया था और कहा था बिहार की बेटी का चयन जीतने के लिए होना चाहिए था न कि हारने के लिए।

इससे पहले भी जब केन्द में संप्रग की सरकार थी तब दो बार बिहार की बेटी मीरा कुमार को राष्ट्रपति बनाने का अवसर था लेकिन उस समय उनका चयन नहीं किया गया। उल्लेखनीय है कि राष्ट्रपति चुनाव की मतगणना में श्री कोविंद विपक्ष की उम्मीदवार एवं पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार को भारी मतों के अंतर से हराकर विजयी हुए। उन्हें निर्वाचक मंडल के कुल मत मूल्य का 65 65 प्रतिशत वोट मिला है जबकि श्रीमती कुमार को 34 35 प्रतिशत मत मूल्य प्राप्त हुआ।