सोनिया ने की लालू-नीतीश से फोन पर बात, तेजस्वी इस्तीफे पर तनाव जारी


पटना : जदयू और राजद के बीच उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर बढ़ रहे तनाव के बीच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से फोन पर बात की है। इसके अलावा सोनिया गांधी ने लालू प्रसाद यादव से भी बात की है। साफ है कि सोनिया गांधी टूट की ओर बढ़ रहे महागठबंधन को बचाने की कोशिश कर रही हैं।

Source

दरअसल, बिहार में राजद और जदयू के बीच तेजस्वी यादव के इस्तीफे को लेकर घमासान तेज होता नजर आ रहा है। जहां एक तरफ जदयू द्वारा राजद को दिए गया समय समाप्त हो रहा है। इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि जहां एक तरफ नीतीश तेजस्वी को हटाने पर अड़े हैं वहीं राजद ने कहा है कि अगर ऐसा हुआ तो राजद के सभी विधायक अपने मंत्री पद से इस्तीफा दे देंगे। सीबीआई द्वारा केस दर्ज किए जाने के बाद बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव अपनी ही गठबंधन पार्टी जदयू के निशाने पर हैं।

हालांकि पूरे मामले में उन्होंने दलील दी है कि जिस समय घोटाला होने की बाद कही जा रही है तब वो 14 साल के थे और उनकी मूंछे भी नहीं निकलीं थीं। राजद ने धमकी दी है कि उसके पास 80 विधायक हैं और वो जो चाहे कर सकती है। बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के इस्तीफे के मुद्दे पर जदयू के नैतिक दबाव को खारिज करते हुए राजद ने फिर अपने सहयोगी को उसकी हैसियत याद दिलाई।

Source

राजद विधायक भाई वीरेंद्र ने राजद को महागठबंधन के घटक दलों में सबसे बड़ा बताया और कहा कि भाजपा के चढ़ाने पर कुछ लोग राजद के खिलाफ बयान दे रहे हैं। राजद विधायक ने कहा कि महागठबंधन के घटक दलों में राजद बड़े भाई की भूमिका में है। हमारे पास सबसे ज्यादा 80 विधायक हैं।

जदयू-कांग्रेस का नाम लिए बगैर वीरेंद्र बोले कि 71 और 27 विधायकों वाली पार्टियां 80 विधायकों वाली पार्टी के बारे में निर्णय नहीं कर सकतीं। हम बड़े हैं इसलिए सरकार में हमारी मर्जी चलेगी। हम जो चाहेंगे, वही होगा। किसी के चाहने से तेजस्वी इस्तीफा नहीं देंगे। वीरेंद्र ने सिर्फ लालू यादव को अपना नेता बताया।

दोहराया कि भाजपा द्वारा तेजस्वी को फंसाया जा रहा है और उसके इशारे पर महागठबंधन के कुछ लोग साथ दे रहे हैं। ये ऐसे लोग हैं जो विधानसभा चुनाव में महागठबंधन को एक भी वोट नहीं दिला पाए थे। खुद भी हमारे वोट से चुनाव जीतकर आए हैं। राजद विधायक ने तेजस्वी के इस्तीफे की मांग का जोरदार खंडन किया और कहा कि किसी भी कीमत पर ऐसा नहीं होने जा रहा है।

जेडीयू ने लालू से पूछा सवाल- बताएं कहां से आई इतनी संपत्ति?

जदयू अब राजद अध्यक्ष लालू यादव को लेकर सीधे हमलावर हो गया है। आज जदयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने बड़ा बयान दिया है और लालू से सीधे तौर पर पूछा है कि लालू बताएं कि उनके पास इतनी संपत्ति कहां से आई। उन्होंने कहा कि लालू को अपनी संपत्ति घोषित करनी चाहिए।

राजद की ओर से लगातार जुबानी हमले किए जाने के बाद अब जदयू नेताओं ने भी तल्ख बयान देना शुरू कर दिया है। एेसे में जदयू की ओर से इस बड़े बयान के आने के बाद महागठबंधन के बीच चल रहे जुूबानी युद्ध सबके सामने है। एेसे में किसी बड़े संभावना से इंकार नहीं किया जा सकता।

Source

एक तरफ लालू आज रांची में चारा घोटाला मामले में कोर्ट में पेश हुए हैं तो वहीं एेेसे में बिहार में राजद पर जदयू की एेसी तल्खी देखी जा रही है। जुबानी तीर अब राजद की ओर से ही नहीं जदयू की ओर से भी चलने शुरू हो गए हैं।

वहीं, इसका जवाब देते हुए राजद के प्रवक्ता मनोज झा ने कहा है कि लालू ने पहले ही अपनी संपत्ति घोषित कर दी थी। उन्होंने कहा कि महागठबंधन के नेता अनावश्यक बयानबाजी से बचें। उन्हें ये समझना चाहिए कि ये सब बीजेपी की चाल है। उनकी इस चाल को कामयाब नहीं होने देना है।  इसका जवाब देते हुए जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि राजद ध्यान भटकाने की कोशिश ना करे, पूछे गए सवालों का जवाब दे।