तेजस्वी की करतूत से जनता अवगत


पटना : आकंठ भ्रष्टाचार एवं घोटालों के आरोपों में घिरा लालू परिवार छटपटाहट एवं बेचैनी के कारण कभी भगवान के द्वार तो कभी गांधी की शरण में जाकर मनोहार कर रहे हैं। बड़ा बेटा कृष्ण की जन्म भूमि वृन्दावन तो दूसरी ओर छोटा बेटा महात्मा गांधी के कर्मभूमि का दौरा कर अपने को पाक-साफ स्थापित करने में लगे हैं । बिहार की जनता लालू परिवार की इन काली करतूतों एवं अकूत बेनामी संपति के घोटालों से भलीभांति अवगत हो चुकी है।

अब तेजस्वी यादव चाहे वृन्दावन जायें या फिर तेज प्रताप यादव चंपारण जायें कृष्ण और गांधी इन्हें माफ करने वाले नहीं है। क्योंकि दोनों ही महान-आत्माओं ने अन्याय , पाप एवं भ्रष्टाचार की विरूद्ध आजीवन संघर्ष किया था। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता सुरेश रूंगटा ने कहा कि भाजपा के साथ पुन: सरकार बनने के बाद बिहार में एक सकारात्मक बदलाव हुआ है।

बिहार में जो एक डर का माहौल बन गया था वह पूर्णत: अब समाप्त हो गया है । इसका प्रमाण पटना में पिछले तीन वर्षों से बंद पड़े बिहार का एक मात्र हीरा तराशने के कारखाना का पुन: चालू होना है। बिहार की अब फिजा बदल गई है, जिसका सुपरिणाम आगे आने वाले समय में देखने को मिलेगा।