सरकार की अनदेखी से पटना में महाजाम से कोहराम: भाजपा


पटना : बिहार भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने नीतीश सरकार पर शराबबंदी को लागू करने में पूरे पुलिस प्रशासन को झोंकने का आरोप लगाते हुये आज कहा कि इससे राजधानी में महाजाम से कोहराम मच गया है। बिहार विधानसभा की लोक लेखा समिति के सभापति और भाजपा के वरिष्ठ नेता नंदकिशोर यादव ने यहां कहा कि राजधानी पटना में प्राय: हर दिन जहां महाजाम से कोहराम मचा है, वहीं दूसरी तरफ राज्य सरकार ने विफल होती अपनी शराबबंदी को देखकर आनन-फानन में पुलिस की पूरी फौज को ‘जाम’ टकराने वालों को पकडऩे में झोंक दी है।

श्री यादव ने कहा कि शराबियों को पकड़ने और बिहार आ रही शराब की बड़ी-बड़ी खेप को कथित रूप से पकड़ने के सरकारी निर्देश ने अवैध उगाही के एक नये कारोबार को जन्म दे दिया है। उन्होंने कहा कि महाजाम से कराह रही राजधानी की जनता और उसमें फंसे भूखे-प्यासे स्कूल बच्चों की बिलबिलाहट-छटपटाहट के प्रति सरकार पूरी तरह संवेदनहीन बनी हुई है। भाजपा नेता ने कहा कि जबर्दस्त लग्न के कारण राजधानी की सभी सड़कों पर वाहनों की लंबी कतार लगी है। यातायात व्यवस्था को संभालने में सरकार के सारे प्रयास विफल साबित हो रहे हैं। होमगार्ड के जवानों के आन्दोलन के कारण सरकार को कुछ सूझ ही नहीं रहा है।

उन्होंने कहा कि थानों के मालखानों में चूहों द्वारा लाखों रुपये के शराब गटक जाने से समूचा पुलिस प्रशासन ‘मुंहसुन्घवा’ दस्ता बनकर जाम पे जाम टकराने वाले को पकडऩे के अभियान में लग राजधानी की यातायात व्यवस्था को भगवान भरोसे छोड़ दिया है। भाजपा नेता ने कहा कि महात्मा गांधी सेतु, अशोक राजपथ, सुदर्शन पथ, बाईपास रोड, खगौल रोड, फुलवारीशरीफ रोड सब जगह महाजाम सा दृश्य उपस्थित है। नतीजा है कि न तो निर्धारित मुर्हूत में वर लग्न मंडल में पहुंच रहे हैं और न ही समय पर दरवाजे बारात लग रही है। उन्होंने कहा कि शहरियों का जनजीवन पूरी तरह से अस्त-व्यस्त है।

– वार्ता