गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने बुधवार को कहा कि कांग्रेस राज्य में 2019 के आम चुनाव में एक भी लोकसभा सीट नहीं जीत पाएगी। उन्होंने कहा कि भाजपा 2019 में राज्य की सभी 26 लोकसभा सीटों पर जीत हासिल करते हुए 2014 के आम चुनाव के नतीजों को दोहराएगी।

रूपाणी ने  कहा, ‘हम 2019 लोकसभा चुनाव में 2014 को दोहराते हुए गुजरात में सभी 26 सीटों पर जीत हासिल करेंगे।’

उन्होंने कहा कि कांग्रेस राज्य में एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं कर पाएगी। कांग्रेस ने 2017 के विधानसभा चुनाव में भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी।

रूपाणी ने कहा, ‘2014 के आम चुनाव के बाद गुजरात ही एकमात्र ऐसा राज्य है जहां सत्तारूढ़ दल ने दोबारा सत्ता में वापसी की है।’ उन्होंने कहा, ‘अन्य पिछड़ा वर्ग, पाटीदार व दलित समुदाय के राज्यव्यापी प्रदर्शनों के बावजूद भाजपा ने अपना लोहा मनवाया। लोगों ने कांग्रेस को नकारा और भाजपा को हर जगह जिताया। यहां तक कि भाजपा का वोट प्रतिशत भी बढ़ा।’

रूपाणी ने यह भी चिन्हित किया कि कांग्रेस द्वारा वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) को गब्बर सिंह टैक्स कहे जाने के बावजूद चुनाव के दौरान राज्य का व्यापारी समुदाय भाजपा के साथ खड़ा रहा।

रूपाणी ने कहा, ‘केंद्र सरकार द्वारा नोटबंदी और जीएसटी लागू करने के बावजूद व्यापारी समुदाय ने भाजपा को समर्थन दिया। हम सूरत, वडोदरा और अहमदाबाद में अच्छी संख्या के साथ जीते।’

ग्रामीण इलाकों में भाजपा को किसानों द्वारा नकारे जाने के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा, ‘राज्य में 22 सालों के भाजपा शासन के बाद भी किसानों का सरकार में पूरा भरोसा है।’

उन्होंने कहा, ‘हमने उनकी मदद के लिए उनकी उपज का न्यूनतम समर्थन (एमएसपी) मूल्य का अधिकतम दिया है।’ राज्य में दलित उत्पीड़न के मामलों के सवाल पूछे जाने पर रूपाणी ने कहा, ‘ऐसी शिकायतों के आने पर हम तत्काल कदम उठाते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘राजकोट की घटना के बाद, राज्य सरकार ने त्वरित कार्रवाई करते हुए घटना के लिए जिम्मेदार चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया।’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘हमने परिवार के लोगों के लिए आठ लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है और अपराधियों के खिलाफ सख्त कदम उठाए हैं।’

राज्य के मुद्दों पर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के लगातर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमले के सवाल पर भाजपा नेता ने कहा, ‘वह अभी परिपक्व नहीं हुए हैं। यह उनकी अपरिपक्वता दिखाता है। वह अपनी छवि सुधारने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन जल्द ही वह बेनकाब हो जाएंगे।’

राज्य में डायल 108 नाव एम्बुलेंस सेवा की शुरुआत करने वाले रूपाणी ने कहा, ‘आज हम तटीय इलाकों में नाव एम्बुलेंस सेवा की शुरुआत कर रहे हैं ताकि यहां रहने वाले लोगों को उचित चिकित्सा सेवाएं मुहैया कराई जा सकें।’

उन्होंने यह भी कहा कि राज्य सरकार राज्य के लोगों के लिए बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है। साथ ही उन्होंने दुर्घटना पीड़ितों के लिए 50 हजार रुपये की सहायता की भी घोषणा की।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।