चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामला : आरोपी को बचाने की कोशिश कर रही बीजेपी – कांग्रेस


चंडीगढ़ में हाई प्रोफाइल छेड़छाड़ मामले में कांग्रेस ने हरियाणा BJP अध्यक्ष के बेटे को बचाने के आरोप में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है।

कांग्रेस के नेता सुरजेवाला ने कहा कि BJP आरोपी को बचाने के लिए चंडीगढ़ पुलिस पर दबाव बना रही है. क्या अमित शाह और BJP हरियाणा BJP अध्यक्ष का इस्तीफ़ा लेंगे? इस मामले में अपहरण की धाराएं क्यों नहीं लगाई गईं। ऐसा इसलिए क्योंकि आरोपी राज्य BJP प्रमुख का बेटा है। BJP जो कर रही है वह बिल्कुल एकतरफ़ा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम खट्टर, क्या यही सबका साथ, सबका विकास है?।

इस मामले में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा है कि इसे व्यक्तिगत मामले की तरह देखना चाहिए, हरियाणा बीजेपी के अध्यक्ष से इसका कोई लेना देना नहीं है।

वही कांग्रेस नेता ने आगे कहा कि आरोपी को बचाने के लिए 5 CCTV फुटेज को भी गायब कर दिया गया है। अब ये कहा जा रहा है कि 7 में से 5 CCTV काम ही नहीं कर रहे थे। ऐसा कैसे हो सकता है कि 7 में से 5 CCTV कैमरों ने एक साथ काम करना बंद कर दिया हो? सच ये है कि हम आरोपी के खिलाफ सबसे पुख्ता सबूत को खो चुके हैं। वहीं कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान पर निशाना साधा है।

कांग्रेस नेता टॉम वडक्कम ने कहा कि हरियाणा में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ अभियान औंधे मुंह गिरा है। एक लड़की का राजधानी चंडीगढ़ में पीछा किया गया। अगर ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ का मतलब यही है तो सरकार को तुंरत इस अभियान को वापस ले लेना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि चंडीगढ़ पुलिस BJP के दबाव में फेयर जांच नहीं कर रही।

उल्लेखनीय है कि रविवार को पीड़ि‍त लड़की के IAS अधिकारी पिता ने सोशल मीडिया पर लोगों से आह्वान किया कि महिलाओं के खिलाफ अपराधों से लड़ाई लड़ें. उन्होंने अपने परिवार की व्यथा भी साझा की है। पीड़ित लड़की ने भी अपनी वेदना जाहिर करते हुए एक पोस्ट डाली है जिसमें उसने लिखा है कि वह सौभाग्यशाली है कि किसी आम आदमी की बेटी नहीं है। अन्यथा वह जानती है कि उसकी क्या हालत होती ।