नौकरशाहों को सरकार से करप्शन की प्रेरणा मिल रही


रायपुर करप्ट नौकरशाहों के खिलाफ भारत सरकार की कार्रवाइयों पर पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने कहा है कि आईएएस और आईपीएस इसलिए करप्ट हुए क्योंकि उन्हें सरकार से प्रेरणा ले रहे हैं। लेकिन जब उन्हें लग रहा है कि सरकार में ही बैठे लोग ही पैसा बटोर रहे है तो फि र वो भी करप्ट हो गए हैं, मेरे कार्यकाल के ईमानदार आईएएस अफसरों को भी इस सरकार ने करप्ट बना दिया। जिन पर मेरे कार्यकाल में एक पैसे का भी आरोप नहीं लगा था उनपर भी बड़े बड़े करप्शन के आरोप हैं। कार्रवाई होनी चाहिए लेकिन असली कार्रवाई तो तब होगी जब सरकार के करप्शन में घिरे लोगों पर कार्रवाई होगी।

अजीत जोगी आज अपने आवास में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे थे। जोगी ने कहा कि पूरी सरकार करप्शन में जुटी है। पनामा लीक मामले पर भी अजीत जोगी ने सरकार पर निशाना साधा। इस मामले में अजीत जोगी ने पनामा लीक मामले में सुप्रीम कोर्ट की एसआईटी से भी शिकायत की है। जोगी ने पनामा मामले में पाकिस्तान के कोर्ट का उदाहरण देते हुए कहा कि पाकिस्तान की तरह भारत में भी करवाई होनी चाहिए।

अजित जोगी ने इस मामले में पी चिदम्बरम और उनके बेटे कार्तिक चिदम्बरम पर जमकर निशाना साधा। जोगी ने बताया कि उनकी पार्टी कल से जोगी कांग्रेस ‘ कुर्सी छोड़ो ‘ आंदोलन शुरू करेगी। ये तीन चरणों में आंदोलन होगा। कल इस अभियान का पहला चरण सीएम हाउस का घेराव करेंगे। दूसरे चरण में प्रदेश के कोने कोने से पोस्टकार्ड अभियान चलाया जाएगा और करप्शन के खिलाफ प्रधानमंत्री को पोस्टकार्ड भेजा जाएगा। ये अभियान 14 अगस्त से रमन सरकार के 5 हज़ार दिन पुुुरेे होनेे पर शुुुरु किया जाएगा। तीसरे और आखिरी चरण में दो अक्टूबर से दिल्ली में धरने पर अजीत जोगी खुद बैठेंगे। ये धरना सरकार के करप्शन और अन्य मुद्दों को लेकर किया जाएगा।