कांग्रेस कर रही है हमारे नेताओं की तस्करी


रायपुर : कांग्रेस पार्टी जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़(जे) की नेताओं की तस्करी कर रही है। ये आरोप है अमित जोगी ने लगाया है। अमित जोगी ने कहा कि कुछ नेताओं द्वारा पार्टी छोडऩे को लेकर अमित जोगी ने कहा कि जो गए हमने उन्हें पद और सम्मान दिया लेकिन शायद उनकी लालसा अधिक थी। ऐसे लोग जहां गए उन्हें ही मुबारक। जनता सब देख और जान रही है। अगले साल जोगी सरकार बनने के डर से भाजपा-कांग्रेस महागठबंधन महानदी, इंद्रावती, पोलावरम, शराबबंदी, आउट्सोर्सिंग जैसे जनता से जुड़े मुद्दों की राजनीति छोड़ आजकल नेताओं की तस्करी में लगा है।

मुट्ठी भर लोगों को अपने पाले में लेकर अगर ये लोग खुश हैं, तो होने दीजिये। हमारे साथ प्रतिदिन हजारों की संख्या में छत्तीसगढ़ की आम जनता जुड़ रही है। अब छत्तीसगढ़ में केवल और केवल छत्तीसगढ़वाद चलेगा और हमे 2018 में सरकार बनाने से कोई नहीं रोक सकता। वहीं उन्होंने यह भी कहा कि जोगी पार्टी में थे तब भी जोगी-जोगी, अब जब जोगी पार्टी से अलग हैं तब भी जोगी-जोगी।

मारवाही विधायक अमित जोगी ने कहा कि वो जोगेरिया ग्रसित लोगों की हालत बखूबी समझ सकते हैं और ऐसे लोगों से उन्हें पूरी हमदर्दी है। बेचारे भूपेश-सिंहदेव और हरिप्रसाद करें भी तो क्या करें। कांग्रेस को छत्तीसगढ़ में जिंदा रखना है तो जोगी नाम का जप तो करना पड़ेगा। यही कारण है कि तीनों जोगी नाम जपते हुए दिनभर यहां से वहां माइक पकड़ कर घुमते रहते हैं। उनकी पूरी राजनीति ही जोगी के इर्द-गिर्द है। उनकी बेकार की बातों को हमने गंभीरता से लेना छोड़ दिया है।