एनएसजी कमांडो ने लोक सुराज में अपने परिवार के लिए मांगा वनभूमि का पट्टा


कांकेर : छत्तीसगढ के लोक सुराज अभियान में कल उस वक्त रोचक मोड़ आया जब मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह को पता चला कि उनकी सुरक्षा में तैनात एक एनएसजी कमांडो उसी इलाके का है, जहां वे उतरे हैं। साल्हे में सीएम ने नारायणपुर गांव के जवान सुनील उइके की पीठ थपथपाई। सुनील ने उचित अवसर मान परिवार की लंबित मांग सामने रख दी।

उसने कहा- मेरे परिवार को वनभूमि का पट्टा नहीं मिला है। डॉ सिंह ने मौके पर ही कांकेर कलेक्टर को पट्टा बनाने का निर्देश दिया। उन्होंने इस बात की प्रशंसा की कि सुदूर आदिवासी गांव का सुनील राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) का कमांडो है। उसे देख स्थानीय लोग भी गर्व से भर उठे।

वहीं कांकेर से 70 किलोमीटर दूर भानुप्रतापपुर विकासखंड के साल्हे में सीएम ने दल्लीराजहरा, रावघाट निर्माणाधीन रेल परियोजना का निरीक्षण किया। उन्होंने रेल्वे के वरिष्ठ अधिकारियों को काम में तेजी लाने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने रेलमंत्री सुरेश प्रभु को ट्वीट किया, जिस पर प्रभु ने ट्वीटर किया।

इस मार्ग पर दल्लीराजहरा से गुदुम तक रेललाइन निर्माण हो चुका है और ट्रेन भी चल रही है। दल्लीराजहरा-रावघाट रेल मार्ग में गुदुम, भानुप्रतापपुर, केंवटी, अंतागढ़, ताड़ोकी तथा रावघाट कुल 6 स्टेशन हैं। 2018 में इस रेललाइन से साल्हे से अंतागढ़, भानुप्रतापपुर, दुर्ग तक सफर की सुविधा मिलने लगेगी।

– वार्ता