रमन के अनुरोध पर केंद्र ने दी रजामंदी


रायपुर: केन्द्र सरकार ने मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के आग्रह को स्वीकार करते हुए छत्तीसगढ़ में ग्यारह जिलों में नये नवोदय विद्यालयों की स्थापना की स्वीकृति प्रदान कर दी है। ये नवोदय विद्यालय बालोदद, नारायणपुर, बेमेतरा, मुंगेली, सरगुजा (अम्बिकापुर), बलरामपुर, बीजापुर, सुकमा, कोंडागांव, गरियाबंद और बलौदाबाजार जिलों में शुरू किए जाएंगे। इन्हें मिलाकर राज्य के सभी 27 जिलों में नवोदय विद्यालयों की संख्या 28 हो जाएगी। सुकमा जिले में दूसरा नवोदय विद्यालय मंजूर किया गया है।

मुख्यमंत्री डॉ. रमन ङ्क्षसह ने राज्य के ग्यारह जिलों में नए नवोदय विद्यालयों की स्वीकृति मिलने पर प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर के प्रति आभार प्रकट किया है। उल्लेखनीय है कि डॉ. रमन सिंह शुक्रवार 14 जुलाई को बालोद जिले के ग्राम दुधली (विकासखंड-डौंडीलोहारा) में आयोजित समारोह में छह जिलों के नवोदय विद्यालयों का विधिवत शुभारंभ करेंगे। इनकी स्थापना बालोद, नारायणपुर, बेमेतरा, मुंगेली, सरगुजा और बलरामपुर जिलों में की जाएगी।

नवोदय विद्यालय संगठन के स्थानीय अधिकारियों ने बताया कि नए स्वीकृत 11 नवोदय विद्यालयों में दाखिले के लिए इस वर्ष जनवरी में परीक्षा आयोजित हो चुकी है। प्रवेश की प्रक्रिया जल्द शुरू होने जा रही है। प्रत्येक नये स्वीकृत नवोदय विद्यालय में स्थान की उपलब्धता के आधार पर 40 से लेकर 80 तक सीटें होंगी। इन विद्यालयों में छठवीं कक्षा में बच्चों को प्रवेश दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ग्राम दुधली के कार्यक्रम में बालोद जिले के विकास के लिए विभिन्न निर्माण कार्यों का लोकार्पण, भूमि पूजन और शिलान्यास भी करेंगे। वे इस अवसर पर शासन की विभिन्न हितग्राही मूलक योजनाओं के तहत बड़ी संख्या में हितग्राहियों को अनुदान सामग्री का भी वितरण करेंगे।