IPL मैच से पहले प्रदर्शनकारियों से घिरा चेन्नई


Cauvery Water Dispute main

कावेरी प्रबंधन बोर्ड की मांग कर रहे लोगों ने रात में चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके)और कोलकाता नाइट राइडर्स (केकआर) के बीच होने वाले आईपीएल मैच के खिलाफ सड़कों पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया। प्रतिद्वंदी टीम को एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम के पीछे वाले दरवाजे से अंदर ले जाया गया। परिसर सैकड़ों सुरक्षाकर्मियों की तैनाती के कारण किले में तब्दील हो गया है। एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम को चेपॉक स्टेडियम के नाम से भी जाना जाता है।

आईपीएल विरोधी कार्यकर्ताओं को शो खराब करने से रोकने के लिए स्टेडियम जाने वाली सभी सड़कों पर सुरक्षा का जाल बिछा दिया गया है। प्रदर्शनकारियों के समूह विभिन्न रास्तों से नारे लगाते हुए क्रिकेट स्टेडियम की ओर बढ़ रहे हैं। स्टेडियम के ऊपर आसमान में हेलीकॉप्टर चक्कर लगा रहा है।

पुलिस ने कुछ तमिल समूहों के सदस्यों को हिरासत में लिया है। विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रदर्शनकारी सर्वोच्च न्यायालय द्वारा निर्देशित कावेरी प्रबंधन बोर्ड (सीएमबी) और कावेरी जल नियामक समिति (सीडब्ल्यूआरसी) का गठन नहीं करने के लिए मोदी सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। एसडीपीआई के सदस्यों ने मुख्य मार्ग अन्ना सलाई पर विरोध प्रदर्शन किया जिससे यातायात बाधित हुआ।

मैच रात आठ बजे से शुरू होने के लिए तैयार है। इससे पहले प्रदर्शनकारियों ने अपना विरोध दर्ज कराने के लिए मैच के खिलाफ काले गुब्बारे उड़ाए। पुलिस ने क्रिकेट स्टेडियम की घेराबंदी करने का प्रयास करने वाले कुछ प्रदर्शनकारियों को भी हिरासत में लिया।

तमिल फिल्म निर्माता भारतीराजा जैसी अन्य हस्तियों ने तमिलनाडु के साथ साथ कर्नाटक के लिए न्याय की मांग करते हुए सड़कों की ओर रुख किया। यह दोनों राज्य नदी जल पर विवाद को लेकर फंसे हुए हैं।  पुलिस ने कहा कि स्टेडियम में प्रवेश करने से पहले सभी दर्शकों की टटोल कर तलाशी ली जाएगी।  सोमवार को अधिकारियों ने आईपीएल के लिए अभूतपूर्व सुरक्षा इंतजाम की घोषणा की थी।

इसके अलावा, तमिलनाडु क्रिकेट संघ (टीएनसीए) ने दर्शकों को मोबाइल फोन, रीमोट कंट्रोल वाली गाड़ी की चाबियां, बैग, पेज, रेडियो, डिजिटल डायरी, लैपटॉप, कम्प्यूटर, टैप-रिकॉडर और दूरबीन या किसी भी प्रकार के इलेक्ट्रानिक उपकरणों को लाने से इनकार कर दिया था।

तमिलनाडु के मत्स्य पालन मंत्री डी. जयकुमार ने कहा कि मैच को रद्द करना है या नहीं इसका फैसला आयोजनकर्ता करेंगे और यह लोगों को तय करना है कि वह मैच का बहिष्कार करें या नहीं। मंगलवार को हालांकि आईपीएल आयोजनकर्ताओं ने दर्शकों को स्टेडियम में मोबाइल फोन ले जाने की इजाजत देने का फैसला किया।

इस बीच, इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के चेयरमैन राजीव शुक्ला ने चेन्नई में होने वाले मैचों की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर मंगलवार को केंद्रीय गृह सचिव से मुलाकात की। दिल्ली में मीडिया से बात करते हुए शुक्ला ने कहा कि केंद्र, तमिलनाडु और चेन्नई पुलिस ने उन्हें आईपीएल के मैचों की मेजबानी बिनी किसी दिक्कत के कराने का आश्वासन दिया है।

अधिक लेटेस्ट खबरों के लिए यहां क्लिक  करें।