इंडिया चीन सीमा पर तनातनी बनी हुई है सिक्किम में इंडिया और चीन की सेना के बीच विवाद लेकर जहां चीन बौखलाया हुआ है वही चीन ने कश्मीर विवाद को छेड़ा हुआ है चीन ने इंडिया और पाकिस्तान के रिश्तों में जारी कड़वाहट को दूर करने के लिए रचनात्मक भूमिका निभाने का एक प्रस्ताव दिया है।

चीन के आज कश्मीर मुद्दे को अपना मोहरा बना कर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने आज कहा कि कश्मीर के हालात ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय का ध्यान आकर्षित किया है।

लेकिन चीन ने जम्मू & कश्मीर के अनंतनाग जिले में अमरनाथ यात्रियों पर हुए आतंकी हमले पर कुछ नहीं बोलो ।

वही चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने ये भी कहा कि इंडिया और पाकिस्तान दक्षिण एशिया के अहम देश हैं। कश्मीर में नियंत्रण रेखा के पास टकराव जारी है। इससे ना दोनों देशों बल्कि पूरे क्षेत्र की शांति और स्थिरता को नुकसान है।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जेंग शुआंग ने कहा ” हमें आशा है कि दोनों पक्ष इलाके में तनाव कम करने और शांति व स्थिरता बनाने में सहायक कुछ और जरूरी कदम उठाएंगे। इसके साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इंडिया और पाकिस्तान के बीच संबंध सुधारने में चीन रचनात्मक भूमिका निभाने का इच्छुक है”।

आपको बता दें कि जम्मू & कश्मीर के अनंतनाग जिले में सोमवार रात बाबा बर्फानी के दर्शन करके आ रहे अमरनाथ यात्रियों पर हुए हमले की न ही चीनी प्रवक्ता ने और न ही चीनी सरकार ने निंदा की है।

इस हमले के पीछे पाक के आतंकवादी संगठन लश्कर ए तैयबा का हाथ सामने आया है। इस हमले की साजिश पाकिस्तानी आतंकी अबू इस्माइल ने रची थी।