CM ने दिया कर्ज माफी पर फैसले का भरोसा, किसानों ने खत्म किया आंदोलन


मुंबई: महाराष्ट्र के लोगों के लिए रात में राहत की खबर आयी है। महाराष्ट्र में कर्ज माफी समेत कई मुद्दों को लेकर 2 दिनों से जारी किसानों की हड़ताल शनिवार सुबह खत्म हो गई। किसान नेताओं ने यह फैसला सीएम देवेंद्र फडणवीस के साथ हुई बैठक के बाद लिया। इस बैठक में तय हुआ है कि राज्य सरकार कर्ज चुकाने में असमर्थ छोटे किसानों का कर्ज 31 अक्टूबर तक माफ कर देगी।

साथ ही किसानों को उचित समर्थन मूल्य देने के लिए कानून बनाया जाएगा। 20 जून तक दूध की नई कीमत तय की जाएगी। राज्य में जल्द ही कृषि मूल्य आयोग बनाया जाएगा। साथ ही किसानों के बिजली के बिलों को भी माफ किया जाएगा। कर्ज माफी के मुद्दे पर मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से बातचीत विफल रहने के बाद किसानों ने गुरुवार से उग्र आंदोलन छेड़ रखा था।

इस आंदोलन के तहत किसानों ने मुंबई सहित विभिन्न शहरों को दूध-सब्जी की सप्लाई रोक दी थी। वहीं शिर्डी सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में किसानों ने दूध के टैंकर को खोल कर सारा दूध हाईवे पर बहा दिया था। किसानों ने ट्रकों को बीच रास्ते में रोक कर फल-सब्जियों को सड़क पर गिरा दिया. खाद्य तेल, चॉकलेट, बिस्किट के पैकेटों का भी यही हाल किया गया। इस वजह से बाजारों में दूध-सब्जियों जैसी रोजमर्रा के उपयोग की चीज़ों की भारी किल्लत हो गई थी। इस वजह से बाजार में 10 रुपये में मिलने वाली चीज का दाम बढ़कर 40-50 रुपये हो गया था।