कांग्रेस ने की पुष्टि, कहा हां मिले थे राहुल चीनी राजदूत से


rahul gandhi

भूटान ट्रायजंक्शन पर भारत और चीन के बीच गतिरोध के बीच कांग्रेस ने कहा कि पार्टी उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने पड़ोसी देशों के राजदूतों से मुलाकात की है। कांग्रेस पार्टी ने इस बात की सोमवार को पुष्टि की, और पार्टी प्रवक्ता ने कहा कि “बैठक को सनसनीखेज़ मुद्दा बनाने की ज़रूरत नहीं है। पार्टी ने बैठक को तवज्जो नहीं दी और इसके स्थान या वक्त के बारे में नहीं बताया।

Source

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने इसे “सद्भावना मुलाकात” बताया और कहा कि जी 5 देशों के साथ ही पड़ोसी देशों के राजदूत कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष से समय-समय पर मुलाकात करते रहते हैं। उन्होंने कहा, “चाहे चीन के राजदूत हों (लू झाओहु) या भूटान के राजदूत (वेटसोप नामज्ञेल) या पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार शिवशंकर मेनन, राहुल गांधी ने सभी तीनों से मुलाकात की है। इस तरह के सद्भावना मुलाकात को किसी को सनसनीखेज नहीं बनाना चाहिए जैसा कि विदेश मंत्रालय के सूत्र बनाने का प्रयास कर रहे हैं।”

Source

सुरजेवाला ने कहा कि राहुल और विपक्ष के अन्य नेता “हमारे राष्ट्रीय हितों से पूरी तरह अवगत हैं” और भारत-चीन सीमा पर “गंभीर स्थिति” से अवगत है। चीन और भारत के बीच भूटान ट्रायजंक्शन के पास डोकलाम क्षेत्र में पिछले तीन हफ्ते से गतिरोध जारी है। डोका ला भारतीय नाम है जिसे भूटान डोकलाम बताता है जबकि चीन इसे डोंगलांग क्षेत्र का हिस्सा बताता है।