कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष मोहन देव का निधन


कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष मोहन देव का आज यहां निधन हो गया। वह 83 वर्ष के थे।उनके परिवार में पत्नी बिथिका देव तथा चार पुत्रियां हैं। उनकी पत्नी असम विधानसभा की सदस्य रह चुकी हैं और पुत्री सुष्मिता देव सिलचर से कांग्रेस की लोकसभा सदस्य हैं। देव पिछले कई दिनों से बीमार थे और गत 26 जुलाई को दिल का दौरा पड़ने पर उन्हें स्थानीय निजी नर्सिंग होम वैली हॉस्पीटल एंड रिसर्च सेंटर में भर्ती किया गया था जहां उन्हें सघन चिकित्स कक्ष (आईसीयू) में रखा गया था।

अस्पताल सूत्रों ने बताया कि उनके शरीर के कई अंगों ने काम करना बंद कर दिया था और आज सुबह छह बजे उन्होंने अंतिम सांस ली। पारिवारिक सूत्रों के अनुसार उनका अंतिम संस्कार कल यहां किया जाएगा। देव का जन्म असम के सिलचर में 1 अप्रैल 1934 को हुआ था। वह पहली बार सिल्चर लोकसभा क्षेत्र से 1980 में सांसद चुने गए थे। उसके बाद वह 1984 में इसी सीट से सांसद चुने गए। वह वर्ष 1989 एवं 1991 में पड़ोसी राज्य त्रिपुरा के पश्चिम संसदीय क्षेत्र से सांसद चुने गए थे।

देव 1996,1999 और 2004 में दोबारा सिलचर से सांसद चुने गए। देव 1986-1988 के बीच देश के पर्यटन एवं संचार राज्य मंत्री और 1988-1989 के बीच गृह राज्य मंत्री बने। उन्होंने वर्ष 1991 में केंद्रीय इस्पात राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार) का पदभार भी संभाला। देव वर्ष 2005 से 2009 के बीच भारी उद्योग एवं सार्वजनिक उपक्रम विभाग के केंद्रीय मंत्री थे। वह पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के करीबी सहयोगी थे।

देव ने सिल्चर के जी सी कॉलेज से बी.कॉम और ब्रिटेन में कार्डिफ के वेल्स कॉलेज से एमबीए किया था। वह एक कुशल फुटबॉल रेफरी थे। उन्होंने सिलचर जिला खेल संघ एवं इससे जुड़े स्टेडियम के निर्माण में अग्रणी भूमिका निभायी थी। देव के निधन पर कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल,पूर्व मुख्यमंत्री तरुण गोगई सी.पी जोशी समेत कांग्रेस के कई नेताओं ने गहरा शोक जताया है।