PM के प्रधान सचिव के CJI के घर जाने पर कांग्रेस ने उठाया सवाल


Congress_Logo_New

कांग्रेस ने उच्चतम न्यायालय के चार वरिष्ठ न्यायाधीशों के संवाददाता सम्मेलन कर देश के मुख्य न्यायाधीश (सीजेआई) दीपक मिश्रा की कामकाज की शैली को कठघरे में खड़े किये जाने के एक दिन बाद प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव नृपेन्द्र मिश्रा के मुख्य न्यायाधीश से मिलने उनके घर जाने पर सवाल उठाया है।

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव के आज मुख्य न्यायाधीश के निवास स्थान- 5, कृष्ण मेनन मार्ग जाने के कुछ घंटे बाद ही कहा कि प्रधानमंत्री को देश के मुख्य न्यायाधीश के निवास पर अपना विशेष दूत भेजने का कारण बताना चाहिए। उन्होंने ट्वीट किया,’ प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव नृपेन्द्र मिश्रा मुख्य न्यायाधीश के निवास 5-कृष्णा मेनन मार्ग गये हैं। प्रधानमंत्री को अपने विशेष दूत को मुख्य न्यायाधीश के घर भेजने का कारण बताना चाहिए।’

इससे पहले श्री मिश्रा ने कहा कि वह न्यायमूर्ति मिश्रा को नये साल की बधाई देने तथा नये निवास स्थान पर आने के लिए बधाई देने गये थे। साथ ही उन्होंने कहा कि वह मुख्य न्यायाधीश से नहीं मिल सके, क्योंकि वह (मुख्य न्यायाधीश) पूजा कर रहे थे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शुक्रवार को ही सोहराबुद्दीन शेख मुठभेड़ मामले के ट्रायल जज बी एच लोया की मौत के मामले की उच्चतम न्यायालय में उच्च स्तरीय जांच कराने की मांग की थी।

संवाददाता सम्मेलन में अपनी बात रखने वाले चारों न्यायाधीशों ने भी इस मुद्दे को मुख्य न्यायाधीश के साथ मतभेदों का एक प्रमुख कारण बताया था। उधर, भारतीय जनता पार्टी ने यह कहते हुए कांग्रेस की आलोचना की है कि विपक्ष इस मुद्दे का राजनीतिकरण कर रहा है। पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है, ‘यह उच्चतम न्यायालय का आंतरिक मामला है और इस पर राजनीति नहीं की जानी चाहिए।’

अन्य विशेष खबरों के लिए पढ़िये पंजाब केसरी की अन्य रिपोर्ट।